International Women's Day 2022: देश में 57 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया की शिकार

समय:2022-09-30 03:35:53स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:जिआनो

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारEPFO ने निवेशकों को दी खुशखबरी, 2020-21 के लिये ईपीएफ जमा पर देगा 8.5 प्रतिशत ब्याज******EPFO announced good news for investors will pay 8.5 percent interest on EPF deposit for 2020-21 EPFOने अनुमानों के उलट निवेशकों को बड़ी खुशखबरी दी है। EPFOने इपीएफ जमा पर ब्याज की दरों को स्थिर रखा है। इस प्रकार 2020-21 में भी निवेशकों को 8.5 प्रतिशत ब्याज मिलेगा। इससे पहले माना जा रहा था कि पेट्रोल, डीजल और एलपीजी की बढ़ती कीमतों से परेशान वेतनभोगी कर्मचारियों को झटका देते हुए ईपीएफओ ब्याज की दरों में कटौती कर सकता है। के इस कदम से 6 करोड़ से अधिक लोग सीधे तौर पर प्रभावित होंगे।कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भविष्य निधि जमा पर ब्याज दरों को तय करने के लिए आज कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के केंद्रीय न्यासी मंडल की श्रीनगर में बैठक हुई। इस बैठक में 2020-21 के लिए ब्याज दर की घोषणा करने के प्रस्ताव पर फैसला लिया गया। 2019-20 के लिए EPFO की ब्याज दरें 8.5 प्रतिशत थी।बता दें कि ईपीएफओ ने अभी तक बहुत से खाताधारकों को पिछले वित्‍त वर्ष के लिए घोषि‍त ब्‍याज का भुगतान नहीं किया है। सूत्रों ने बताया कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान बड़ी संख्‍या में ईपीएफ सदस्‍यों ने अपने खाते से रकम निकाली है जिसके चलते पीएफ अंशदान में भी कमी आई है। ऐसे में ईपीएफओ ब्‍याज दर में कटौती न करने के फैसले का स्वागत किया जा रहा है।पढ़ें- पढ़ें-ईपीएफओ ने 2019-20 के लिए 8.5 प्रतिशत ब्‍याज की घोषणा की थी, जो पिछले 7 साल में सबसे कम है। वित्‍त वर्ष 2012-13 में ईपीएफ पर ब्‍याज दर 8.5 प्रतिशत थी। पिछले साल मार्च में ईपीएफओ ने ब्‍याज दर में संशोधन किया था। इससे पहले वित्‍त वर्ष 2018-19 के लिए ईपीएफ पर 8.65 प्रतिशत ब्‍याज मिला था। वित्‍त वर्ष 2017-18 में ईपीएफ पर 8.55 प्रतिशत ब्‍याज का भुगतान किया गया था। वित्‍त वर्ष 2015-16 में ब्‍याज की दर 8.8 प्रतिशत थी। वित्‍त वर्ष 2013-14 में ईपीएफ पर 8.75 प्रतिशत की दर से ब्‍याज का भुगतान किया गया था।

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारमंगेतर निक जोनस से इतने गुना ज्यादा अमीर है प्रियंका चोपड़ा, जानिए दोनों की कमाई******: दीपिका पादुकोण- रणवीर सिंह की शादी के बाद अब पूरी दुनिया की नजर क्वांटिको गर्ल प्रियंका चोपड़ा- अमेरिकन पॉप सिंगर निक जोनस पर हैं। प्रियंका-निक की शादी की तैयारियां पूरे जोर-शोर से चल रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 2 दिसंबर को दोनों जोधपुर में शादी करेंगे। प्रियंका और निक ने अपनी शादी का वेन्यू जोधपुर के शाही उम्मेद भवन पैलेस को चुना है।प्रियंका चोपड़ा एकमात्र ऐसे एक्ट्रेस हैं जो बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी काफी एक्टिव हैं। दिलचस्प बात यह है कि प्रियंका के इंटरनेशनल करियर की शुरुआत भी सिंगिंग से ही हुई थी। 2012 में प्रियंका का अमेरिकन रैपर Will.I.Am के साथ पहला गाना In My City आया, जिसमें उन्होंने एक स्मॉल टाउन गर्ल से स्टार बनने तक के सफ़र को ख़ूबसूरती के साथ पिरोया था। इसके बाद उन्होंने 2013 में Exotic और 2014 में I Can't Make You Love Me गाने रिलीज़ किये। इग्जॉटिक गाने में विख्यात सिंगर पिटबुल भी नजर आएं थे।बॉलीवुड में एक्टिंग के साथ प्रियंका फ़िल्म प्रोडक्शन भी कर रही हैं। नवंबर 2017 में फोर्ब्स की मोस्ट पॉवरफुल वुमन की ग्लोबल सूची में प्रियंका 97 स्थान पर आयी थीं। इस रिपोर्ट के अनुसार प्रियंका की सलाना आमदनी 10 मिलियन डॉलर यानि लगभग ₹64 करोड़ आंकी गयी थी। यह आमदनी एक जून 2016 से 1 जून 2017 के बीच थी। कुछ और रिपोर्ट्स में प्रियंका की नेट वर्थ 28 मिलियन डॉलर यानि क़रीब ₹200 करोड़ बतायी गयी थी।वहीं, प्रियंका के होने वाले दूल्हे निक जोनस पेशे से सिंगर और एक्टर हैं। म्यूज़िक वीडियोज़ के अलावा निक ने अमेरिकन टीवी और फ़िल्मों में काफ़ी काम किया है। 2017 में आयी 'जुमानजी- वेल्कम टू जंगल' में निक एक ख़ास भूमिका में दिखायी दे चुके हैं। संयोग से इस फ़िल्म में लीड रोल ड्वेन जॉनसन ने ही निभाया था, जिनके साथ प्रियंका ने हॉलीवुड फ़िल्मों में डेब्यू किया है। अंतर्राष्ट्रीय सेलेब्रिटीज़ की कमाई का हिसाब-किताब रखने वाली एक वेबसाइट के अनुसार, निक की नेट वर्थ क़रीब 25 मिलियन डॉलर यानि लगभग ₹171 करोड़ है। इन रिपोर्ट्स की मानें तो प्रियंका अपने होने वाले पति से अधिक मालदार हैं। मगर, शादी के बाद दोनों की संयुक्त संपत्ति ₹300 करोड़ से अधिक हो जाएगी।प्रियंका और निक की पहली मुलाक़ात 2017 में मेट गाला इवेंट में हुई थी, जिसमें दोनों राल्फ लॉरेन के लिए रैंप पर चले थे। अमेरिका में इस इवेंट को फ़ैशन का ऑस्कर कहा जाता है। हालांकि प्रियंका और निक के बीच रिलेशनशिप की ख़बरें पहली बार इसी साल मई में सार्वजनिक हुई थीं। इसके बाद अगस्त में प्रियंका ने निक के साथ मुंबई में अपने आवास पर सगाई और रोका किया, जिसमें निक के माता-पिता शामिल हुए थे।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारKhatron Ke Khiladi 11: श्वेता तिवारी और राहुल वैद्य ने जमकर की मस्ती, Photos हुईं Viral******रिएलिटी शोइन दिनों सुर्खियों में हैं। कंटेस्टेंट्स इन दिनों केपटाउन में शो की शूटिंग कर रहे हैं। सभी सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं और खूब फोटोज-वीडियो अपलोड करते हैं। अब श्वेता तिवारी और राहुल वैद्य की मस्ती करते हुए तस्वीरें वायरल हो रही हैं। बता दें कि इस सीजन में श्वेता और राहुल के साथ दिव्यांका त्रिपाठी, अर्जुन बिजलानी, निक्की तंबोली, अनुष्का सेन और विशाल आदित्य सिंह सहित कई सेलेब्स हिस्सा ले रहे हैं।श्वेता तिवारी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर राहुल वैद्य के साथ फोटोज शेयर की हैं, जो इंटरनेट पर वायरल हो रही हैं।अनुष्का सेन भी इंस्टाग्राम पर काफी एक्टिव हैं। उन्होंने अपनी कई फोटोज शेयर की हैं।शो के होस्ट रोहित शेट्टी ने भी एक वीडियो शेयर कर हिंट दिया है कि ये शो जल्द ही शुरू होने वाला है। पिछले काफी समय से मशहूर डायरेक्टर रोहित शेट्टी 'खतरों के खिलाड़ी' को होस्ट कर रहे हैं। इसके 11वें सीजन की शूटिंग केपटाउन में हो रही है, जहां से रोहित ने इस शो की अपनी यात्रा शुरू की थी। उन्होंने कैप्शन में लिखा- '7 साल पहले मैंने इसी जगह पर केप टाउन में खतरों के खिलाड़ी की अपनी यात्रा शुरू की थी, उसी स्टंट पायलट वॉरेन के साथ, जो मेरे अनुसार दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्टंट पायलटों में से एक है! 7 साल और 7 सीज़न बाद, दुनिया बहुत बदल गई है ... लेकिन जो नहीं बदला वह है इस शो की भावना! भारतीय टेलीविजन पर पहले कभी नहीं देखे गए एक्शन देखने के लिए तैयार हो जाइए। जल्द आ रहा है... खतरों के खिलाड़ी, सीजन 11'बता दें कि इस बार शो में दिव्यांका त्रिपाठी, श्वेता तिवारी, राहुल वैद्य, विशाल आदित्य सिंह, अभिनव शुक्ला, अर्जुन बिजलानी, सौरभ राज जैन, वरुण सूद, निक्की तंबोली, सना मकबूल और अनुष्का सेन सहित कई सेलेब्स हिस्सा ले रहे हैं। ये सभी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं। हर दिन कोई ना कोई फोटो या वीडियो शेयर कर ये चर्चा में रहते हैं।

International Women's Day 2022: देश में 57 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया की शिकार

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारशाहरुख खान ने कोलकाता इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में की बंगाली बोलने की कोशिश, वीडियो हुआ वायरल******बॉलीवुड के किंग 8 नवंबर को कोलकाता इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन समारोह में गए थे। जहां उन्होंने स्टेज पर बॉलीवुड की अदाकार राखी के साथ बातचीत भी की। राखी और शाहरुख खान 1993 में फिल्म बाजीगर में मां-बेटे का किरदार निभा चुके हैं। स्टेज पर दोनों ने बंगाली भी बोली।बॉलीवुड अदाकारा राखी बंगाली हैं। उन्होंने शाहरुख खान को कुछ बंगाली शब्द सिखाए। राखी ने शाहरुख को रविंद्रनाथ टैगोर के सदाबहार गाने ओ अमर मति, गाना सिखाया। राखी एक-एक शब्द बोल रही थीं जिसके बाद शाहरुख उन्हें रिपीट कर रहे थे। शाहरुख खान का बंगाली बोलते हुए वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।वीडियो में गाना सिखाने के बाद राखी इमोशनल होकर शाहरुख को गले लगाती हैं। शाहरुख ने कहा- मैंने क्या कहा मुझे कुछ समझ नहीं आया। जब मैंने बाजीगर में राखी जी के साथ काम किया था और अभी भी मैं उनके साथ खड़े होने का मौका ढूंढता हूं। आपका बहुत शुक्रिया राखी जी।कोलकाता इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के उद्घाटन पर सीएम ममता बनर्जी, राखी, सौरब गांगुली, एमपी नुसरत जहां, एमपी मिमी चक्रवर्ती जाने कई बड़ लोग थे। शाहरुख खान ने दिया जलाकर फेस्टिवल का उद्घाटन किया।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारUP News: यूपी के अमरोहा में प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, अवैध जमीन पर बने मदरसे पर चला बुलडोजर******Highlightsयूपी के अमरोहा में प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। यहां शनिवार को प्रशासन ने एक मदरसे पर बुलडोजर चलाया है। ये मदरसा ग्राम समाज की जमीन पर बना हुआ था। हालांकि मदरसे के प्रबंधक का कहना है कि ये जमीन उनके पुरखों की है। इस मामले में प्रशासन का भी बयान सामने आया है। प्रशासन ने कहा है कि जांच के बाद ही मदरसे को ध्वस्त किया गया है। बता दें कि ये पूरा मामला हसनपुर तहसील के जेबड़ा गांव का है। यहां काफी समय से जुमे की नमाज का विवाद चल रहा था।दरअसल ये मदरसा कई सालों से संचालित हो रहा था लेकिन पिछले कुछ महीनों से दूसरे धर्म के लोग मदरसे में जुमे की सामूहिक नमाज पढ़ने का विरोध कर रहे थे। ऐसे में प्रशासन ने दोनों पक्षों को बुलाया था और कहा था कि बिना इजाजत के सामूहिक नमाज न पढ़ें।ग्रामीणों का आरोप- ग्राम समाज की जमीन पर है मदरसाइस मामले ने तूल तब पकड़ा था, जब ग्रामीणों ने आरोप लगाया था कि जिस जगह पर मदरसे का निर्माण हुआ है, वह ग्राम समाज की है। इसके बाद तहसील प्रशासन ने जांच पड़ताल की और शनिवार को सर्किल के पुलिस फोर्स के साथ पहुंचकर मदरसे पर बुलडोजर चलवा दिया।वहीं मदरसे के प्रबंधक इश्तियाक अहमद का कहना है कि मदरसा उनके पुरखों की जमीन पर ही है। साल 1961 में उनके दादा कादर बक्श के नाम से ये जमीन उन्हें दी गई थी।मुरादाबाद में फर्नीचर कारोबारी की संपत्ति पर चला बुलडोजरमुरादाबाद में फर्नीचर कारोबारी की संपत्ति पर भी बुलडोजर चलने का मामला सामने आया है। हालांकि यहां फर्नीचर कारोबारी ने शिकायत की है कि SDM ने फर्नीचर बनवाया और भुगतान नहीं किया। इसके बाद उन्होंने बुलडोजर चलवा दिया। ऐसे में मुरादाबाद डीएम ने इस मामले में जांच के निर्देश दिए हैं। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।सहारनपुर बसपा के पूर्व एमएलसी के घर पर चल चुका है बुलडोजरइससे पहले यूपी के सहारनपुर में बसपा से पूर्व MLC हाजी इकबाल के खिलाफ प्रशासन बड़ी कार्रवाई कर चुका है। प्रशासन ने नक्शा पास ना होने की वजह से हाजी इकबाल के घर पर बुलडोजर चलाया था। इस मामले में सिटी मजिस्ट्रेट विवेक चतुर्वेदी ने कहा था, 'बसपा के पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को नोटिस दिया गया और फिर अपना पक्ष रखने का मौका दिया गया। इसके बाद तोड़-फोड़ का काम शुरू हुआ। मकान गिरने के बाद यह बंद हो जाएगा। यह अवैध रूप से बिना नक्शे के पारित हुए बनाया गया था।'देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारअमित शाह की अगुवाई में Air India पर जीओएम की बैठक आज, विनिवेश के इन 10 प्रमुख मुद्दों पर होगी चर्चा******air india केंद्रीय गृहमंत्री की अगुवाई वाली मंत्रिमंडलीय समित विनिवेश के 10 प्रमुख मुद्दों पर आज चर्चा करेगी, जिसमें एफडीआई नियमों में और ढील देने, कर्ज का हस्तांतरण एसपीवी को करने तथा रिजर्व मूल्य तय करने पर चर्चा होगी। पहली बैठक में के कारोबार से सरकार के पूरी तरह से निकलने का फैसला किया गया था। इस महत्वपूर्ण बैठक में एयर इंडिया के वर्तमान और सेवानिवृत्त 40,000 कर्मचारियों के पैकेज (मेडिकल सुविधाओं समेत) पर चर्चा होगी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि संभावित बोलीदाताओं के पात्रता मानदंडों में भी ढील देने पर चर्चा होगी, जिससे नई कंपनियां और हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल्स (एचएनआईज) भी इसकी बिक्री प्रक्रिया में भाग ले पाएंगे।इसके अलावा 10,000 करोड़ रुपए के अतिरिक्त कर्ज (जोकि पहले तय किए गए 29,464 करोड़ रुपए के अतिरिक्त है) को एयर इंडिया एस्सेट्स होल्डिंग्स लि. (एआईएएचएल) को हस्तांतरित किया जाएगा, जो एयर इंडिया की परिसंपत्तियों और कर्ज के कुछ हिस्सों के हस्तांतरण के लिए बनाई गई स्पेशल पर्पज व्हिकल (एसपीवी) है।एयर इंडिया पर फिलहाल करीब 60,000 करोड़ रुपए का कर्ज है, जिसमें विमानों की खरीद और कार्यशील पूंजी हेतु लिए गए दीर्घकालिक कर्ज भी शामिल हैं। विनिवेश योजना की जानकारी रखनेवाले एक अधिकारी ने बताया, "अब एयर इंडिया पर महज 18,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। जब इसके लिए बोली आमंत्रित की जाएगी, तो उसमें खातों में 18,000 करोड़ रुपये का कर्ज ही दिखाया जाएगा।"

International Women's Day 2022: देश में 57 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया की शिकार

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारआईपीएल 2020 के अंतिम सप्ताह में होगा महिला टी20 चैलेंज, चार टीमें लेंगी हिस्सा******साल 2019 की तरह जयपुर के ही सवाई मानसिंह स्टेडियम में महिला आईपीएल टी20 चैलंज के मुकाबले आईपीएल 2020 के प्लेऑफ के सप्ताह में खेले जाएंगे। इस बार चैलंज में चार टीमें खेलेंगी हलांकि अभी तक चौथी टीम का नाम सामने नहीं आया है।महिला चैलंज टी20 में चार टीमों के भाग लेने के चलते इसमें 6 मुकाबले खेले जाएंगे, जिसमे पिछले तीन दो साल की तरह फ़ाइनल मुकाबला भी खेला जाएगा।गौरतलब है कि महिला आईपीएल के सपने को साकार करने के लिए साल 2018 से महिला टी20 चैलेंज आईपीएल के बीच में खेले जा रहे हैं। सबसे पहले सिर्फ दो टीमों ने भाग लिया था जिसमें सुपरनोवास की कप्तान हरमनप्रीत कौर जबकि ट्रेलब्लेज़र की कप्तान स्मृति मंधाना थी। उसके बाद साल 2019 में इसमें एक और टीम आई जिसकी कप्तान अनुभवी खिलाड़ी मिताली राज बनी थी।बता दें कि पिछली दोनों बार से महिला टी20 चैलेंज की विजेता हरमनप्रीत कौर की कप्तानी वाली टीम सुपरनोवास रही है। जिसके बाद महिला टी20 के तीसरे सीजन का पूरा कार्यक्रम और इसमें खेलने वाली महिला विदेशी खिलाड़ियों की घोषण भी समय के अनुसार की जाएगी। इसे महिला आईपीएल की शुरुआत के तौर पर देखा जा रहा है।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारएकता कपूर ने पिता जीतेंद्र को दी 79वें जन्मदिन की बधाई******बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर जितेन्द्र बुधवार को 79 वर्ष के हो गए और उनकी बेटी, निर्माता एकता कपूर ने उन्हें अपने नए इंस्टाग्राम पोस्ट में जन्मदिन की शुभकामनाएं दी। एकता ने लिखा कि उन्होंने अपने पिता से बहुत कुछ सीखा है। उन्होंने याद किया कि कैसे जब उन्होंने निर्माता बनने का फैसला किया था तो, उनके पिता ने उनका समर्थन किया था।एकता ने लिखा, "हैप्पी बर्थडे पापा! मेरे पंखों के नीचे की हवा हो आप!!! आपने आगे बढ़ने में मेरी मदद की है और तब समर्थन किया है, जब मैंने प्रोड्यूसर बनने का फैसला किया था।"खबरों के मुताबिक, मुंबई में लॉकडाउन और कोविड -19 की दूसरी लहर के कारण परिवार में इस साल घर में ही सेलिब्रेट किया जाएगा।जितेंद्र ने 1960 में अपनी फिल्मी जीवन की शुरुआत की थी। उन्होंने अपने करियर में 200 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।

International Women's Day 2022: देश में 57 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया की शिकार

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकार5G नेटवर्क मामला: दिल्ली हाईकोर्ट ने जूही चावला को 20 लाख रुपये का जुर्माना भरने के लिए दिया एक हफ्ते का समय******दिल्ली उच्च न्यायालय ने बॉलीवुड अभिनेत्री और दो अन्य को 5जी वायरलेस नेटवर्क प्रौद्योगिकी को चुनौती देने के मामले में कानून की प्रक्रिया का दुरुपयोग करने पर लगाया गया 20 लाख का जुर्माना भरने के लिये एक सप्ताह का समय दिया।न्यायमूर्ति जे आर मिढ्ढा ने कहा, ''अदालत वादियों के आचरण को लेकर स्तब्ध है।'' उन्होंने कहा कि चावला और अन्य ''सम्मानपूर्वक धनराशि जमा कराने के इच्छुक तक नहीं'' हैं। न्यायाधीश अभिनेत्री द्वारा दाखिल किये गए तीन आवेदनों पर सुनवाई कर रहे थे। इनमें अदालती फीस की वापसी, जुर्माने में छूट और फैसले में ''खारिज'' शब्द को ''अस्वीकार'' करने की अपील की गई है।जूही चावला की ओर से पेश वकील वरिष्ठ अधिवक्ता मीत मल्होत्रा ने जुर्माना भरने के लिये एक सप्ताह का समय मांगा, जिसपर सहमति जताते हुए अदालत ने सुनवाई 12 जुलाई तक स्थगित कर दी।गौरतलब है कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने चार जून को 5जी वायरलेस नेटवर्क तकनीक को चुनौती देने वाली चावला की याचिका को खारिज कर उन पर तथा सह याचिकाकर्ताओं पर 20 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। अदालत ने कहा था कि याचिका ‘‘दोषपूर्ण’’, ‘‘कानून की प्रक्रिया का दुरुपयोग’’ और ‘‘प्रचार पाने के लिए’’ दायर की गई थी।

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारBAN vs WI 2nd Test : पहले दिन बांग्लादेश ने पांच विकेट के नुकसान पर बनाए 242 रन******चटगांव। पहले दो सत्र में चार विकेट गंवाने के बाद बांग्लादेश ने शानदार वापसी करते हुए वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन बुधवार को पांच विकेट पर 242 रन बना लिये।बायें हाथ के स्पिनर जोमेल वारिकन ने 58 रन देकर तीन विकेट लिये। बांग्लादेश के लिये सलामी बल्लेबाज शादमान इस्लाम ने 59 रन बनाये जो टेस्ट क्रिकेट में उनका दूसरा अर्धशतक है।नजमल हुसैन शंटो, मोमिनुल हक और मुशफिकुर रहीम ने क्रमश: 25, 26,38 रन बनाये लेकिन बड़ी पारियां नहीं खेल सके। नजमुल रन आउट हुए जबकि मोमिनुल और मुशफिकुर को वारिकन ने आउट किया।तामिम इकबाल को कमार रोच ने पहले घंटे में पवेलियन भेजा। दूसरे सत्र में बांग्लादेश ने 71 रन बनाये लेकिन दो विकेट और गंवाये। पहले दिन का खेल समाप्त होने पर लिटन दास 34 और शाकिब अल हसन 39 रन बनाकर खेल रहे थे।दोनों ने छठे विकेट के लिये 49 रन की साझेदारी कर ली है। कोरोना महामारी के बीच बांग्लादेश का यह पहला टेस्ट है जबकि वेस्टइंडीज पांच मैच खेल चुकी है।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकार'भारत और अमेरिका सबसे अच्छे दोस्त', एक और हिंदी स्लोगन के साथ लौटे US के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप******अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति (Donald Trump) एक और हिंदी नारे के साथ वापस आ गए हैं। उन्होंने इस बार 'भारत और अमेरिका सबसे अच्छे दोस्त' का नारा दिया है। ट्रंप ने हाल ही में अपने मार-ए-लागो आवास पर शिकागो के एक व्यवसायी, रिपब्लिकन डोनर और रणनीतिकार शलभ कुमार के लिए यह नया कैचफ्रेज रिकॉर्ड किया, जो 2016 में ट्रंप के पहले हिंदी नारे के पीछे भी थे: 'अब की बार, ट्रम्प सरकार', जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनावी नारे 'अब की बार, मोदी सरकार' से प्रेरित था।बता दें कि शलभ कुमार 2016 से डोनाल्ड ट्रंप के साथ काम कर रहे हैं, लेकिन पूर्व राष्ट्रपति के कार्यकाल के अंत में उनके बीच चीजें अच्छी नहीं थी। कुमार ट्रंप के 2020 के चुनाव अभियान से दूर रहे, लेकिन वे हाल ही में पूर्व राष्ट्रपति के साथ एक इंटरव्यू में दिखाई दिए। इंटरव्यू में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि मैं आगामी चुनाव लड़ने को लेकर बहुत जल्द फैसला लूंगा। साथ ही कहा कि मुझे लगता है कि मेरे इस फैसले से लोग बहुत खुश होंगे। इसी इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा कि मेरे भारत और प्रधानमंत्री मोदी से बहुत अच्छे संबंध रहे हैं। मुझे लगता है कि पीएम मोदी बहुत अच्छा काम कर रहे हैं।वहीं, शलभ कुमार ने बताया कि ट्रंप, जो बिल्कुल भी हिंदी नहीं बोलते हैं, उनके लिए यह नारा रिकॉर्ड करना आसान नहीं था, उन्हें 'भारत' शब्द का सही उच्चारण करने में परेशानी होती थी। कुमार ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति ने यह 'सिर्फ तीन टेक' में रिकॉर्ड कर लिया। पूर्व राष्ट्रपति अब फ्लोरिडा में अपने मार-ए-लागो क्लब रिसॉर्ट में रहते हैं।कुमार ने विशेष रूप से नए नारे के बारे में चर्चा करते हुए कहा, "हम नवंबर में आगामी मध्यावधि चुनाव में नारे का उपयोग करेंगे।" उन्होंने कहा, नारे का उद्देश्य रिपब्लिकन के समर्थन में भारतीय/हिंदू अमेरिकी मतदाताओं को जुटाना है। भारतीय अमेरिकी स्विंग वाले राज्यों में एक महत्वपूर्ण वोट बैंक के रूप में उभरे हैं, जहां चुनाव परिणाम एक हजार या कुछ हजारों के रूप में महीन मार्जिन पर बदल सकते हैं।भारतीय अमेरिकी समुदाय चार मिलियन से ज्यादा हो गया है। कहा जाता है कि यह कुल आबादी का 1 प्रतिशत से थोड़ा ज्यादा है। डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों पार्टियां अब भारतीय अमेरिकियों को आक्रामक तरीके से लुभाती हैं। कुमार ने कहा कि ट्रंप का नारा एक विज्ञापन में दिखाया जाएगा जो ज्यादातर भारतीय अमेरिकियों द्वारा देखे जाने वाले टीवी चैनलों पर चलेगा।बता दें कि शलभ कुमार 2016 से डोनाल्ड ट्रंप के साथ काम कर रहे हैं, लेकिन पूर्व राष्ट्रपति के कार्यकाल के अंत में उनके बीच चीजें अच्छी नहीं थी। कुमार ट्रंप के 2020 के चुनाव अभियान से दूर रहे, लेकिन वे हाल ही में पूर्व राष्ट्रपति के साथ एक इंटरव्यू में दिखाई दिए।

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारMP News: देशभर में हो रही 'बाघिन मौसी' की चर्चा, दूर-दूर से मिलने आ रहे लोग, जानें क्या है मामला******Highlightsमध्य प्रदेश के जंगल में इन दिनों एक बाघिन सबके आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। 'बाघिन मौसी' के नाम से लोग इसे बुला रहे हैं। दरअसल इस बाघिन में मातृत्व का दुर्लभ गुण देखा गया है। ‘टी-28’ नामक बाघिन यहां न केवल अपने शावकों का पालन-पोषण कर रही है, बल्कि अपनी मृत बहन ‘टी-18’ के तीन शावकों की भी देखभाल करके एवं उन्हें जंगल में शिकार का प्रशिक्षण देकर ‘मौसी’ होने का फर्ज भी निभा रही है। ‘मौसी’ (मां की बहन) बाघिन टी-28 ने अपने शावकों के साथ-साथ अपनी बहन के शावकों की देखभाल करके मध्य प्रदेश के सीधी जिले के संजय दुबरी राष्ट्रीय उद्यान और बाघ अभयारण्य में सभी का ध्यान अपने ओर खींचा है।बाघिन टी- 18 की मौत के बाद सावकों का जीवन कठिन हो गया थाबाघिन टी-18 से जन्मे चार शावकों के लिए जन्म के बाद ही जीवन का सफर कठिन हो गया, जब उनकी मां की एक ट्रेन हादसे में मौत हो गई। मां की मौत के बाद एक शावक जंगल के एक बड़े बाघ का शिकार बन गया। इसके बाद टी-18 के तीन बचे शावकों को उनकी मौसी ने अपना लिया और वह उन्हें जीवन जीने के लिए जंगल के तौर तरीके सिखाने लगी। संजय दुबरी बाघ अभयारण्य के क्षेत्र निदेशक वाई पी सिंह ने भाषा से कहा, ‘‘हमें सूचना मिली थी कि इस साल 16 मार्च को दुबरी रेंज के रिजर्व कोर एरिया में रेलवे पटरी के पास एक बाघिन घायल पड़ी है। वन विभाग का दल मौके पर पहुंचा और पाया कि यह बाघिन टी-18 थी।’’सावकों की सुरक्षा को लेकर चिंता थीउन्होंने कहा कि घायल टी-18 को उपचार के बाद पिंजरे से रिहा कर दिया गया, लेकिन बाघिन हिल भी नहीं पा रही थी और अंतत: कुछ घंटों बाद उसकी मौत हो गई। सिंह ने कहा, ‘‘इसके बाद हमारी सबसे बड़ी चिंता टी-18 के चार शावकों की सुरक्षा को लेकर थी, जो उस वक्त नौ महीने के थे। इन शावकों की निगरानी के लिए हाथियों पर चढ़कर गश्त करने वाले दलों को तैनात किया गया और शावकों को शिकार मुहैया कराया गया, लेकिन दुर्भाग्य से एक वयस्क बाघ ने इनमें से एक शावक को मार डाला।’’ अधिकारी ने कहा कि इस घटना ने शेष बचे तीन शावकों के लिए चिंता और बढ़ा दी, क्योंकि जिस क्षेत्र में टी-18 के शावक रहते थे, उसी इलाके में वयस्क बाघ टी-26 विचरण करता था। लेकिन जब से बाघिन टी-28 ने इनकी जिम्मेदारी संभाली है, हमारी चिंता कम हुई है।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारशेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में मामूली गिरावट, सेंसेक्स 31 अंक नीचे****** बंबई शेयर बाजार का सूचकांक अन्य एशियाई बाजारों में मिले-जुले रझान के बीच मुनाफावसूली के मद्देनजर आज के शुरुआती कारोबार में 31 अंक से अधिक टूटा। कारोबारियों ने कहा कि इसके अलावा निवेशकों के गुरुवार को डेरिवेटिव खंड की समाप्ति से पहले सतर्कता बरतने से भी बाजार प्रभावित हुआ।सेंसेक्सआज 31.39 अंक या 0.11 प्रतिशत गिरकर 28,063.95 पर आ गया जबकि पिछले दो सत्रों में इसमें 384.82 अंकों की गिरावट दर्ज हुई थी।एनएसई निफ्टी भी 15.20 अंक या 0.17 प्रतिशत फिसलकर 8,620.45 पर चल रहा था।कारोबारियों ने कहा कि अन्य एशियाई बाजारों में मिले-जुले रझान के बीच प्रतिभागियों की ओर से मुनाफावसूली उभरने बाजार के रुख पर असर हुआ।रुपया आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मांग बढ़ने के बीच आज के शुरुआती कारोबार में सात पैसे टूटकर 67.42 पर आ गया है। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि विदेशी बाजारों में अन्य मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में मजबूती के अलावा शेयर बाजार में शुरुआती नरमी से भी रुपए के रझान पर असर हुआ। रुपया कल के कारोबार में 27 पैसे की गिरावट के साथ दो सप्ताह के न्यूनतम स्तर 67.35 पर बंद हुआ था।सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 31.39 अंक या 0.11 प्रतिशत गिरकर 28,063.95 पर चल रहा था।IMF दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था भारत को लेकर चिंतित, ये हैं 5 बड़े कारणIMF ने घटाया भारत की वृद्धि दर का अनुमान, 2016-17 में 7.4 फीसदी रहेगी GDP ग्रोथ

देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारUS variant of Corona BA.12 : बिहार के पटना में मिला कोरोना का US वैरिएंट BA.12, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप******Highlights: बिहार के पटना में कोरोना के खतरनाक वैरिएंट BA.12 मिलने से हड़कंप मच गया है। यह वैरिएंट अमेरिका में काफी तेजी फैल रहा है। इसे ओमिक्रॉन से 10 गुना ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है। दिल्ली में भी इसके एक से दो मामले सामने आए हैं। इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में डिटेक्ट हुए नए स्ट्रेन के केस देश में अभी काफी कम हैं।BA.12 वैरिएंट सबसे पहले US में डिटेक्ट हुआ था। बिहार में इस वैरिएंट के बारे में उस वक्त पता चला जब इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में 13 सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग कराई गई। इस चौंकाने वाली रिपोर्ट ने सबको डरा दिया है। जीनोम सीक्वेंसिंग की रिपोर्ट आने के बाद से उसकी स्टडी खंगाली जा रही है। मरीज के संपर्क में आने वाले लोगों की भी जांच-पड़ताल की जा रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि वैरिएंट XE और BA.12 के बारे में अभी तक ज्यादा डाटा उपलब्ध नहीं है। लेकिन कई देशों में BA.12 वैरिएंट डिटेक्ट किया जा चुका है।BA.12 एक सब वैरिएंट हैनया वैरिएंट BA.12 ओमिक्रॉन का ही नया म्यूटेंट वैरिएंट हैं। यह XE वैरिएंट से काफी अलग है। बता दें, XE रिकॉम्बिनेशन वैरिएंट है और यह म्यूटेंट वैरिएंट हैं। वहीं BA.12 ओमिक्रॉन के BA.1 और BA.2 की तरह एक सब वैरिएंट है। XE वैरिएंट सबसे पहले 19 जनवरी को यूके में पाया गया था।देशमें57प्रतिशतमहिलाएंएनीमियाकीशिकारब्रिटेन में 11,344 डॉलर में बिका पहले भारतीय रेस्तरां का मेन्यू कार्ड****** में आज से दो सौ वर्ष से भी कुछ अधिक समय पूर्व स्थापित पहले भारतीय रेस्तरां का एक दुर्लभ मेन्यू कार्ड के लिए नीलामी में 11,344 डॉलर की बोली लगायी गयी। रेस्त्रां में परोसे जाने वाले पकवानों में ‘ पाइनेपल पुलाव ’ (अनानास का पुलाव) और ‘ चिकन करी ’ जैसे व्यंजनों के नाम हैं जो इसकी खासियत थे। हिंदुस्तानी डिनर एंड हुक्का स्मोकिंग क्लब की स्थापना शेख दीन मोहम्मद ने1809 में लंदन के पोर्टमैन स्क्येर पर की थी। मूल रूप से बिहार के मोहम्मद एक आंग्ल - भारतीय पर्यटक और कारोबारी थे। वह उन शुरुआती प्रवासियों में से थे जो भारत से इंग्लैंड गए। ब्रिटेन के लोगों को भारतीय पकवानों के स्वाद से परिचित कराने के लिए उन्होंने इस रेस्तरां को खोला था। दीन मोहम्मद का यह ज्यादा दिन नहीं चला। 1812 में उनका दिवाला पिट गया। उसके नए प्रबधंकों ने बाद में उसे ‘ हिंदुस्तानी कॉफी हाउस ’ नाम से 20 साल और चलाया लेकिन अंतत : 1833 में वह भी बंद हो गया। इसी रेस्तरां का एक हस्तलिखित मेन्यू कार्ड यहां एक पुस्तक मेला में 8,500 पौंड यानी 11,344 डॉलर या 7,59,996 रुपये में बिका है।इस पर लिखे अन्य पकवानों के नाम में ‘ मक्की पुलाव ’, ‘ लोबस्टर करी ’, ‘ कूलमाह ऑफ लैंब या वील ’ इत्यादि शामिल हैं। कुल 25 भारतीय पकवानों के नाम इस कार्ड पर हैं जिनके दाम भी लिखे हैं।उदाहरण के लिए मक्की पुलाव उस समय एक पौंड एक सीलिंग और चिकन करी 12 सीलिंग में बिकती थी।

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री