सुबह उठते ही दिख जाए ये चीज तो होगी बल्ले बल्ले, मिलेगी खुशखबरी

समय:2022-09-30 23:54:21स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:जियाओज़ुओ

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीSupreme Court: गृह मंत्रालय को सुप्रीम कोर्ट का निर्देश, ईसाइयों पर हो रहे हमलों को लेकर राज्यों से रिपोर्ट तलब करे******Highlightsसुप्रीम कोर्ट ने ईसाई संस्थानों पर हो रहे हमलों के खिलाफ दायर की गई याचिका पर सुनवाई करते हुए गृह मंत्रालय को निर्देश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने ईसाइयों पर हो रहे हमले की ‘सच्चाई का पता लगाने’ के लिए उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, कर्नाटक, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और झारखंड जैसे राज्यों से रिपोर्ट तलब करने का केंद्रीय गृह मंत्रालय को निर्देश दिया है। शीर्ष अदालत ने कहा कि किसी एक व्यक्ति पर हमले का मतलब यह नहीं है कि यह समुदाय पर हमला है, लेकिन यदि जनहित याचिका में किए गए दावों में से केवल 10 प्रतिशत भी सही है तो इसकी जांच करना जरूरी है। केंद्र सरकार ने न्यायालय से कहा कि ‘मनमर्जी’ रिपोर्ट के आधार पर आधारित जनहित याचिका की सुनवाई नहीं करनी चाहिए।सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर केंद्र सरकार ने असहमति जताईन्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की पीठ ने कहा, ‘‘यद्यपि किसी एक व्यक्ति पर हमले का मतलब यह नहीं है कि यह समुदाय पर हमला है, फिर भी हमें सच्चाई का पता लगाना जरूरी है। हमें जनहित याचिका (PIL) के माध्यम से किए गए ऐसी किसी भी घटना के दावों को सत्यापित करने की जरूरत है।’’ अदालत के रुख से असहमति व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने दलील दी कि जनहित याचिका में उल्लेखित मामलों में 162 मामले सत्यापन के बाद गलत पाए गए हैं। केंद्र की इस दलील पर पीठ ने कहा, ‘‘यह एक जनहित याचिका है और हम शुरू में यह मानकर चलते हैं कि जो दावा किया गया है, वह उचित होगा।’’याचिकाकर्ता की दलीलयाचिकाकर्ताओं की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता कोलिन गोंजाल्विस ने कहा कि ईसाई समुदाय के सदस्यों पर हुए ज्यादातर हमलों में एक ही तरह की पद्धति अपनाई गई है और ये हमले पुलिस अधिकारियों की मिलीभगत से कराए जा रहे हैं। गोंजाल्विस ने दलील दी कि ज्यादातर मामलों में ईसाई पादरियों के खिलाफ पुलिस द्वारा मुकदमा चलाया जाता है, जबकि हमलावरों को आजाद घूमने की आजादी दी जाती है। अदालत का यह निर्देश ‘नेशनलिटी सॉलिडरिटी फोरम’ के डॉ. पीटर मशेदो और एवेनजेलिकल फेलोशिप ऑफ इंडिया के विजयेश लाल और अन्य की याचिका पर आया है।

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीरिलायंस जियो 21 जुलाई को कर सकती है नए टैरिफ प्‍लान की घोषणा, 90 रुपए प्रति महीने रिचार्ज पर मिलेंगी सारी सुविधाएं****** ऐसा लगता है रिलायंस जियो अपने कस्‍टमर्स के लिए अच्‍छे दिन कभी खत्‍म नहीं होने देगी। समर सरप्राइज और धन धना धन ऑफर के खत्‍म होने से पहले ही जियो अपने नए टैरिफ प्‍लान की घोषणा करने की तैयारी में है। इस मामले से सीधे जुड़े सूत्रों की माने तो जियो अपनी पैरेंट कंपनी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की 21 जुलाई को होने वाली वार्षिक आम सभा (एजीएम) में अपने नए टैरिफ प्‍लान की घोषणा कर सकती है।11 अप्रैल को लॉन्‍च किए गए धन धना धन ऑफर की वैधता समाप्‍त होने के नजदी है। ऐसे में रिलायंस जियो यूजर्स में यह जानने की बेचैनी है कि उन्‍हें अब सारी सर्विसेस आगे भी हासिल करते रहने के लिए कितने रुपए का रिचार्ज कराना होगा। अप्रैल 2017 तक जियो के पास 11.255 करोड़ सब्‍सक्राइबर्स थे।एक टेलीकॉम एनालिस्‍ट ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि जियो निम्‍न प्राइस प्‍वाइंट को छूने की कोशिश करेगी। धन धना धन ऑफर के अलावा इसके पास 150 रुपए/महीने का एक अन्‍य प्‍लान भी है ऐसे में जियो 80-90 रुपए की कीमत में एक नया टैरिफ प्‍लान लॉन्‍च कर सकती है, जिसमें 28 दिन की वैधता के साथ डाटा, वॉइस कॉलिंग और एसएमएस सुविधा मिलेगी।जियो अपने प्राइम मेंबर्स, जिन्‍होंने वन टाईम 99 रुपए का भुगतान किया है, को 309 या 509 रुपए के धन धना धन प्‍लान के तहत, जियो फ्री वॉइस, अनलिमिटेड एसएमएस और जियो एप्‍स तथा 1 या 2 जीबी डेली डाटा दे रही है।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीयात्री वाहनों की रिटेल बिक्री जून में 4.6 प्रतिशत घटी, बिके केवल 2,24,755 वाहन******PV retail sales dip 4.6 pc in June, says FADAवाहन डीलरों के संगठन फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) के मुताबिक जून में 4.6 प्रतिशत घटकर 2,24,755 इकाइयों पर रही।फाडा के मुताबिक जून, 2018 में 2,35,539 यात्री वाहनों की बिक्री हुई थी।वहीं दोपहिया वाहनों की बिक्री भी पिछले महीने पांच प्रतिशत की गिरावट के साथ 13,24,822 इकाइयों पर रही। यह आंकड़ा पिछले साल जून में 13,94,770 इकाइयों पर रहा था।संगठन के मुताबिक वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री 19.3 प्रतिशत की भारी गिरावट के साथ 48,752 इकाइयों पर रही, जो पिछले साल इसी महीने में 60,378 इकाइयों पर रही थी।फेडरेशन के आंकड़े के मुताबिक तिपहिया वाहनों की बिक्री 2.8 प्रतिशत की गिरावट के साथ 48,447 इकाइयों पर रही। यह आंकड़ा 2018 के जून में 49,837 इकाइयों पर रहा था।फाडा के मुताबिक सभी श्रेणियों में वाहनों की बिक्री का आंकड़ा 5.4 प्रतिशत गिरकर 16,46,776 इकाइयों पर रहा है। पिछले साल जून में सभी श्रेणियों के वाहनों की बिक्री का आंकड़ा 17,40,524 इकाइयों पर रहा था।

सुबह उठते ही दिख जाए ये चीज तो होगी बल्ले बल्ले, मिलेगी खुशखबरी

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीकोरोना वायरस: टी-सीरीज के मालिक भूषण कुमार ने दान किए 12 करोड़ रुपये****** की वजह से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। इस घातक महामारी से पीड़ित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पीएम मोदी ने सभी से घर में रहने और आर्थिक मदद की अपील की है, जिसके बाद अक्षय कुमार और वरुण धवन सहित कई जानी-मानी हस्तियां सामने आईं। अब इस लिस्ट में टी-सीरीज के मालिक भूषण कुमार का नाम भी जुड़ गया है।भूषण कुमार ने ट्विटर पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने लिखा, 'इस समय हम संकट की घड़ी में हैं और ये बहुत जरूरी है कि हमसे जो हो सकता है, वो मदद करें। मैं अपनी पूरी टी-सीरीज फैमिली के साथ पीएम-केयर फंड में 11 करोड़ रुपये दान करता हूं। हम साथ मिलकर इस लड़ाई को लड़ेंगे। जय हिंद।'पीएम-केयर फंड के अलावा भूषण कुमार ने महाराष्ट्र सीएम-रिलीफ फंड में भी 1 करोड़ रुपये दान किए हैं। उन्होंने लिखा, 'इस जरूरत के समय में, मैं सीएम रिलीफ फंड में 1 करोड़ रुपये दान करता हूं।'बता दें कि इससे पहले एक्टर अक्षय कुमार ने 25 करोड़, वरुण धवन ने 30 लाख, कॉमेडियन कपिल शर्मा ने 50 लाख, साउथ एक्टर प्रभास 4 करोड़, पवन कल्याण 2 करोड़, चिरंजीवी 1 करोड़, महेश बाबू 1 करोड़, अल्लू अर्जुन 1.5 करोड़, राम चरण 70 लाख, सिंगर हंस राज हंस ने 50 लाख और भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह ने 1 लाख रुपये दान किए हैं।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीIND vs WI 1st T20I Weather: अब टी20 में विंडीज पर हमले की बारी, क्या पहले मैच में भारत को मिलेगी मौसम की मेहरबानी?******Highlightsभारत ने वनडे सीरीज में वेस्टइंडीज का सफाया कर दिया और अब बारी टी20 सीरीज की है। भारत और विंडीज के बीच पांच टी20 मैचों की सीरीज का आगाज टरूबा, त्रिनिदाद के ब्रायन लारा स्टेडियम में होगा। इस स्टेडियम में अब तक सिर्फ टी20 इंटरनेशनल मुकाबले ही खेले गए हैं। भारत ने वनडे सीरीज में कैरैबियाई टीम का क्लीन स्वीप किया था। इस सीरीज के तीनों मैच पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले गए थे। आखिरी मैच को छोड़ दें, तो शुरुआती दो वनडे मुकाबले पूरे खेले गए जबकि तीसरे मैच में बारिश की खलल के चलते ओवर घटाने पड़े, जिसे भारत ने डकवर्थ लुइस मेथड से जीतकर विंडीज का 3-0 से सूपड़ा साफ किया। टीम इंडिया को टी20 सीरीज में भी मौसम की ऐसी ही मेहरबानी की जरूरत होगी। दोनों टीमों के बीच पहला मैच शुक्रवार 29 जुलाई को खेला जाएगा, जो भारतीय समय के अनुसार रात 8.00 बजे शुरू होगा। क्या इस मैच में भी दोनों टीमों को मौसम की मेहरबानी इसी तरह से मिल पाएगी? आइये जानते हैं कि पहले टी20 के दौरान कैसा रहेगा टरूबा, त्रिनिदाद के ब्रायन लारा स्टेडियम का मौसम।पहले टी20 मैच के दौरान, शुक्रवार को टरूबा में बारिश की काफी संभावना जताई गई है। मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक यहां में शुक्रवार को सुबह और दोपहर में बारिश हो सकती है। ये बारिश दो घंटे तक चल सकती है। मैच के दिन को बरसात की 80 फीसदी संभावना है। वहीं गरज और बिजली के साथ बारिश होने की 48 फीसदी संभावना है। सुबह में बारिश की 69 फीसदी संभावना जताई गई है जबकि दोपहर में ये घटकर 55 फीसदी हो जाती है। मैच के दिन यहां का तापमान तकरीबन 37 डिग्री रहेगा। ये स्थिति काफी हद तक पोर्ट ऑफ स्पेन में हुए तीसरे वनडे मुकाबले के जैसी है। यानी टी20 सीरीज के पहले मुकाबले में बारिश के कारण रुकावट आ सकती है।बारिश से जुड़े पूर्वानुमान को देखते हुए इस मुकाबले में बाद में बल्लेबाजी करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। भारी हवा और मौसम का तेज गेंदबाजों को फायदा मिल सकता है। ऐसे में, तीसरे वनडे की तरह इस मुकाबले में भी टॉस जीतने वाली टीम पहले बल्लेबाजी करने का फैसला कर सकती है।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीHonor killing in UP: यूपी में रोंगटे खड़े कर देने वाली ऑनर किलिंग से सनसनी, जानें एक लड़के और लड़की क्या हुआ हस्र******Highlightsअभी तक आपने ऑनर किलिंग के ज्यादातर मामले हरियाणा और राजस्थान में ही सुनने को मिलते थे, लेकिन अब यूपी में भी इसके मामले एक के बाद एक सामने आ रहे हैं। ताजा मामला यूपी के बस्ती जिले से जुड़ा है, जहां एक गांव में ऑनर किलिंग में 18 वर्षीय एक लड़के और एक लड़की की कथित तौर पर हत्या कर देने का सनसनीखेज आरोप लगा है। कथित तौर पर इस प्रेमी जोड़े को आपत्तिजनक स्थिति में पाए जाने के बाद दोनों की हत्या कर दी गई। घटना रुधौली थाना क्षेत्र के अंतर्गत हुई। दोनों अलग-अलग धर्म के थे और रिलेशनशिप में थे।ऑनर किलिंग की खबर इलाके में आग की तरह फैली। इसके बाद स्थानीय पुलिस सक्रिय हो गई और मौके पर पहुंचकर हालात को संभाल लिया है। खबरों के मुताबिक, लड़की के परिवार ने कथित तौर पर दोनों की हत्या कर दी और लड़की के शव को दफना दिया, जबकि युवक के शव को पास के गन्ने के खेत में फेंक दिया गया। इस दौरान लड़के और लड़की आपत्तिजनक हालत में प्रेमलीला में मग्न थे। उन्हें क्या पता था कि यह प्रेमलीला उनके जीवन की अंतिम लीला साबित हो जाएगी।मामले की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। सहायक पुलिस अधीक्षक (एएसपी) दीपेंद्र चौधरी ने कहा कि परिवारजनों की ओर से लड़की के शव को कब्र में दफनाए जाने का कार्य किया जा चुका था, लेकिन अब लड़की के शव को कब्र से निकालने की प्रक्रिया शुरू हो गई है और पुलिस दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराने की तैयारी कर रही है। गांव में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है और मामले की जांच की जा रही है। दोषियों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। किसी को बख्शा नहीं जाएगा।मामला तब सामने आया जब एक किसान ने अपने गन्ने के खेत में एक शव देखा और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद रुधौली थाना प्रभारी निरीक्षक रामकृष्ण मिश्रा ने घटना स्थल पर पहुंचकर जांच शुरू की। प्रारंभिक जांच के अनुसार लड़के के शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं। जब उसका शव मिला तो उसने हरे रंग की शर्ट पहनी हुई थी और सभी बटन खुले हुए थे और उसकी पैंट उसके पैरों पर फिसल गई थी।लड़के के पिता ने पुलिस को बताया कि, उसका बेटा गांव में एक व्यक्ति के लिए ट्रैक्टर चलाता था। वह रात में घर से निकला और वापस नहीं लौटा और उसका फोन स्विच ऑफ था। पुलिस ने उस आदमी के घर पहुंचने के बाद पाया कि उसकी बहन की भी पिछली रात मौत हो गई थी और उसे दफना दिया गया था। आगे की जांच में पता चला कि लड़की की रात के दौरान रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी और उसे दफना दिया गया। एएसपी ने कहा, "लड़के के परिवार ने ऑनर किलिंग का आरोप लगाया है। हमने मामला दर्ज कर लिया है और जांच जारी है।"

सुबह उठते ही दिख जाए ये चीज तो होगी बल्ले बल्ले, मिलेगी खुशखबरी

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीछत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सलियों की आई शामत; मुठभेड़ में 9 ढेर, 2 जवान शहीद******रायपुर: छत्तीसगढ़ के प्रभावित जिले में सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन प्रहार में 9 को मार गिराया। इस दौरान 2 पुलिस जवान भी शहीद हुए हैं। राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के विशेष महानिदेशक डी एम अवस्थी ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि सुकमा जिले के किस्टाराम और चिंतागुफा थाना क्षेत्र में पुलिस दल ने मुठभेड़ में नौ नक्सलियों को मार गिराया है। मुठभेड़ में DRG के दो जवान डेरदो रामा और माड़वी जोगा शहीद हो गए।अवस्थी ने बताया कि नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत रविवार को ऑपरेशन प्रहार-4 शुरू किया गया। इस अभियान में STF, DRG और CRPF की कोबरा बटालियन के जवान शामिल हैं। इस अभियान में STF की दो टीम, DRG सुकमा की 10 टीम, और कोबरा की 4 टीमों को मिलाकर 1200 जवानों ने हिस्सा लिया। इसके साथ तेलंगाना के 150 जवान भी थे।उन्होंने बताया कि ये अभियान माओवादियों के बटालियन नंबर एक के कोर क्षेत्र साकलेर, टोंडामरका और सालेतोंग में चलाया गया था। ये स्थान सुकमा, बीजापुर और कोत्तागुड़ेम (तेलंगाना) के त्रिकोण में स्थित है। अधिकारी ने बताया कि दल जब क्षेत्र में पहुंचा तब नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस दल ने भी जवाबी कार्रवाई की।उन्होंने बताया कि ये मुठभेड़ लगभग डेढ़ घंटे तक जारी रही। नक्सलियों के पास से बोल्ट एक्शन गन, 315 बोर रायफल समेत कुल 10 हथियार, बम और अन्य सामान बरामद किया है। मुठभेड़ में मारे गए दो नक्सलियों की पहचान डिविजनल कमेटी सदस्य ताती भीमा और महिला नक्सली पोड़ियम राजे के रूप में की गई है। दोनों के सर पर आठ लाख रूपए का ईनाम घोषित है।उन्होंने बताया कि एक अन्य घटना में सुकमा जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र में कोबरा बटालियन के दल ने ऐलमागुंडा गांव के करीब एक नक्सली को मार गिराया है। इस तरह पुलिस दल ने कुल नौ नक्सलियों को मार गिराया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुकमा जिले के साकलेर क्षेत्र में भारतीय वायु सेना द्वारा MI-17 हेलीकॉप्टर को उतारकर मारे गए माओवादियों और शहीद जवानों के शवों को बाहर निकाला गया है।अवस्थी ने बताया कि राज्य के नक्सल प्रभावित कोर क्षेत्रों सुकमा, बीजापुर और नारायणपुर के संवेदनशील इलाकों में पिछले दो सालों में माओवादियों के खिलाफ व्यापक अभियान चलाया गया है। इसी कड़ी में ऑपरेशन प्रहार-4 किया गया।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीUPPSC PCS pre exam 2021: यूपीपीसीएस की जून में होने वाली प्रारंभिक परीक्षा हुई स्थगित******कोरोना के कारण उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएसी) ने पीसीएस 2021 की प्रारंभिक परीक्षा स्थगित कर दी है। परीक्षा 13 जून को होना था। इसी के साथ होने वाली एसीएफ-आरएफओ प्रारंभिक परीक्षा 2021 भी टल गई है। आयोग के परीक्षा नियंत्रक अरविंद कुमार मिश्र ने बताया कि प्रवक्ता राजकीय इंटर कॉलेज की परीक्षा भी स्थगित कर दी गई है। यूपीपीएससी ने ये फैसला कोरोना महामारी के कारण लिया है। हालात सामान्य होने पर नई तारीख की घोषणा की जाएगी ।उत्तर प्रदेश में लोक सेवा आयोग (UPPSC) द्वारा PCS परीक्षा का आयोजन 538 पदों पर भर्ती के लिए किया जाएगा. इससे पहले सिर्फ 400 पदों पर भर्ती होनी थी, लेकिन आयोग ने 138 पद और जोड़ दिए थे. UPPSC ने SDM के 52 पदों को जोड़ा है. जब भर्ती का नोटिफिकेशन आया था तब इसमें एसडीएम के पद नहीं थे.अब इस भर्ती में एसडीएम के 52 पदों के अलावा डिप्टी एसपी के 16, सहायक नगर आयुक्त 10, खंड विकास अधिकारी 39, एआरटीओ 3, डीपीआरओ 4, अधीक्षक कारागार 9, उपनिबंधक 5, सहायक नियंत्रक विधिक माप विज्ञान ग्रेड-1 का एक, जिला प्रोबेशन अधिकारी एक, गन्ना निरीक्षक एवं सहायक चीनी आयुक्त एक, जिला गन्ना अधिकारी 3, सहायक निदेशक उद्यान 5, सहायक शोध अधिकारी के दो पद शामिल किए गए हैं.

सुबह उठते ही दिख जाए ये चीज तो होगी बल्ले बल्ले, मिलेगी खुशखबरी

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीमारुति की नई डिजायर ने मचाया धमाल, रिकॉर्ड समय में 1 लाख गाड़ियां बिकीं****** देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी की इस साल लॉन्च हुई नई डिजायर को खरीदारों की तरफ से जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला है। कंपनी की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक लॉन्च होने के सिर्फ साढ़े 5 महीने के अंदर ही 1 लाख से ज्यादा नई डिजायर गाड़ियां बिक चुकी हैं, कंपनी के मुताबिक भारतीय ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के इतिहास में डिजायर ने सबसे कम समय में 1 लाख गाड़ियों की बिक्री का आंकड़ा छुआ है। मारुति ने नई डिजायर को इस साल मई में ही लॉन्च किया है।कंपनी के मुताबिक नई डिजायर एक भरोसेमंद सेडान कार है जिसमें बेहतर इंटीरियर लगा हुआ है, नए फीचर्स हैं और साथ में ज्यादा एडवांस सुरक्षा के फीचर दिए गए हैं। इसी वजह से नई डिजायर ग्राहकों को काफी पसंद आ रही है। मारुति वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक आर एस कल्सी के मुताबिक नई डिजायर ब्रांड को एक नई ऊंचाई तक ले गई है। उन्होंने कहा कि नई डिजायर ने न सिर्फ सेडान कारों के एंट्री सेगमेंट में उनकी हिस्सेदारी को बढ़ाया है बल्कि इससे ऑटो इंडस्ट्री का आकार भी बढ़ा है।कंपनी के मुताबिक अबतक उसकी जितनी भी नई डिजायर गाड़ियां बिकी हैं उनमें करीब 50 फीसदी ग्राहक ऐसे हैं जिन्होंने पहली बार कार खरीदी है। ग्राहकों ने नई डिजायर के ऑटोमैटिक गियर को काफी पसंद किया है। कंपनी के मुताबिक अप्रैल से सितंबर तक डिजायर के करीब 17 फीसदी ग्राहकों ने ऑटोमैटिक वर्जन को खरीदा है।कंपनी ने नई डिजायर को पेट्रोल और डीजल दोनो वर्जन में उतारा है, कंपनी का दावा है कि पेट्रोल वर्जन 22 किलोमीटर प्रति लीटर की माइलेज देता है जबकि डीजल वर्जन एक लीटर पेट्रोल में 28.4 किलोमीटर का सफर तय कर लेता है।

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीChanakya Niti: सुबह इन कामों को कर, सफलता के शिखर पर पहुंच जाएंगे, कामयाबी देख शत्रु भी रह जाएंगे दंग******Highlightsकहावत है जो इंसान समय का पक्का होता है, उसे कामयाब होने से कोई भी रोक नहीं सकता है। अगर दिन की शुरुआत अच्छी हो तो सारे काम बन जाते हैं। चाणक्य का मानना है कि दिन की शुभ शुरुआत के लिए व्यक्ति को कुछ चीजों का जरूर पालन करना चाहिए तभी जीवन में सफलता मिलती है। वक्त की कीमत को समझने वाले जीवन में कभी असफल नहीं होते है। चाणक्य के मुताबिक रोजाना सुबह उठने के बाद इन बातों को फॉलो कर लिया तो आपकी सफलता निश्चित है।रात को देर से सोना और सुबह लेट उठना, आपकी सेहत और करियर दोनों के लिए बेहद नुकसानदायक है। चाणक्य कहते हैं कि जल्दी सोना और जल्दी उठना सफलता की पहली सीढ़ी है। सुबह जल्दी उठने से समय पर काम खत्म होने में आसानी होती है।चाणक्य के अनुसार सुबह उठने के बाद दिन की प्लानिंग जरुर करें। जो इंसान अपने पूरे दिन के काम की प्लानिंग बना लेता है, उसे अपना लक्ष्य पाने में ज़्यादा दिक्कत नहीं आती। इससे समय की बर्बादी भी नहीं होगी औऱ तय समय पर सारे काम निपट जाएंगे।जिसने समय की कदर नहीं की समय उसकी कदर नहीं करता है। ये सिर्फ एक मुहावरा नहीं है। बल्कि हर किसी की ज़िंदगी पर ये बात सही बैठती है। समय बहुत मूल्यवान होता है, इसलिए इसका सदुपयोग करें। कभी कोई काम कल पर न टालें। ऐसा करने पर व्यक्ति कामयाबी हासिल नहीं कर सकता। सफलता पाना है तो टाइम टेबल को फॉलों करें, इससे न सिर्फ सफलता बल्कि धन और सम्मान भी मिलेगा।चाणक्य कहते हैं कि स्वास्थ से कभी समझौता न करें, क्योंकि सेहत के प्रति लापरवाह होने पर बीमारियां घेर लेती है। रोगी व्यक्ति चाहकर भी अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाता। शरीर में फूर्ति होगी तभी काम करने में वो सक्षम होगा। इसलिए रोजाना योग, व्यायाम करें, पौष्टिक आराह ग्रहण लें।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीAmerica: अमेरिका के इलिनोइस में फ्रीडम डे परेड में फायरिंग, भीड़ पर चलाईं अंधाधुंध गोलियां******Highlightsअमेरिका में फ्रीडम डे परेड के दौरान फायरिंग की खबर सामने आई है। शिकागो के हाइलैंड पार्क इलाके में फ्रीडम डे परेड निकाली जा रहा थी। इसी परेड के दौरान ये गोलीबारी हुई है। गोलीबारी के बाद शिकागो के हाइलैंड इलाके मे अफरा-तफरी मच गई। इस शूटआउट में 5 लोगों के मरने की खबर आ रही है और कई लोगों के घायल होने की खबर है। पुलिस हमलावर की तलाश कर रही है। अमेरिका में 4 जुलाई को स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया जाता है। इस दौरान देशभर में जगह-जगह पर परेड का आयोजन किया जाता है। इसको लेकर इलिनोइस शहर के हाईलैंड पार्क में फ्रीडम डे परेड आयोजित की गई थी। इसी दौरान फ्रीडम डे परेड में भाग लेने वाले लोगों पर शूटर ने गोलीबारी शुरू कर दी। रिपोर्ट के मुताबिक एक छत से शूटर ने ताबड़तोड़ गोलीबारी की है। रिपोर्ट के मुताबिक इस गोलीबारी में कई लोगों को गोली लगने की खबर है। गोली चलाने वाला एक रिटेल शॉप की छत पर चढ़ गया और वहां से लोगों पर फायरिंग शुरू कर दी।बता दें कि हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने बंदूक हिंसा रोधी बिल को मंजूरी दी थी। इस विधेयक को डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों राजनीतिक दलों का समर्थन मिला। टेक्सास के एक स्कूल में एक बंदूकधारी शख्स ने अंधाधुंद फायरिंग में 19 छात्रों और दो शिक्षकों को बेरहमी से मार दिया था। इस घटना के बाद से ही देश में हथियार खरीदने संबंधी एक कड़े कानून के लिए सरकार पर दबाव बनाया जा रहा था। इसी तरह की आज फ्रीडम डे परेड में फायरिंग की घटना सामने आई है।अमेरिका को हिलाकर रख देने वाली गोलीबारी की घटनाओं के परिप्रेक्ष्य में बंदूक हिंसा रोधी कानून बेहद महत्वपूर्ण है। टेक्सास में हुई घटना से कुछ दिन पहले ‘नस्ली भावना’ रखने वाले 18 वर्षीय एक श्वेत युवक ने अमेरिका के बफेलो शहर के एक सुपरमार्केट में अंधाधुंध गोलबारी कर 10 अश्वेत लोगों की हत्या कर दी थी।

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीRBI ने लगाया एयरटेल पेमेंट्स बैंक पर 5 करोड़ रुपए का जुर्माना, परिचालन निर्देशों और KYC नियमों का उल्‍लंघन करने का है आरोप****** ग्राहकों की अनुमति के बगैर खाते खाेलना एयरटेल को भारी पड़ा है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने परिचालन दिशा-निर्देशों और अपने ग्राहक को जानो (केवाईसी) नियमों का उल्लंघन करने के लिए पर पांच करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है।रिजर्व बैंक ने कंपनी पर यह जुर्माना बैंक के दस्तावेजों की जांच करने के बाद लगाया है। उसने पाया कि ग्राहकों की ओर से बिना किसी स्पष्ट रजामंदी के लोगों के खाते खोले गए। केंद्रीय बैंक ने एक बयान में कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक ने सात मार्च 2018 को एयरटेल पेमेंट्स बैंक लिमिटेड पर पांच करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है। उस पर यह जुर्माना केंद्रीय बैंक द्वारा जारी किए गए केवाईसी नियमों और भुगतान बैंक परिचालन के दिशा-निर्देशों की अवहेलना करने के लिए लगाया गया है। ग्राहकों की शिकायत थी कि उनकी बिना किसी स्पष्ट रजामंदी के एयरटेल पेमेंट्स बैंक ने उनके खाते खोले हैं। इसे लेकर मीडिया में भी खबरें आई थीं, जिस पर रिजर्व बैंक ने 20-22 नवंबर 2017 को बैंक का पर्यवेक्षण दौरा किया।पर्यवेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक बैंक के दस्तावेजों में पाया गया कि उसने केवाईसी नियमों और भुगतान बैंक परिचालन के दिशा-निर्देशों की अवहेलना की है।इसके बाद रिजर्व बैंक ने 15 जनवरी को कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी किया और बैंक के उत्तर का आकलन करने के बाद उस पर यह मौद्रिक जुर्माना लगाने का निर्णय किया।एयरटेल पेमेंट्स बैंक ने पिछले साल जनवरी में अपना परिचालन शुरू किया था।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीIPL 2022: पंजाब किंग्स के पलटवार से हैरान थे केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर, रसेल की तारीफ में कही यह बात******इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के आठवें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम ने पंजाब किंग्स को 6 विकेट से हराकर टूर्नामेंट में अपनी दूसरी जीत दर्ज की। इस जीत के साथ ही केकेआर की टीम पॉइंट्स टेबल में अब 4 अंकों के साथ पहले स्थान पर आ गई है। मैच के बाद केकेआर के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा कि उन्होंने पंजाब किंग्स से इस तरह की वापसी की उम्मीद नहीं की थी।उन्होंने कहा, ‘‘हम स्तब्ध थे- हमने इस तरह की वापसी की उम्मीद नहीं की थी, विशेषकर पहले ही ओवर में विकेट गंवाने के बाद। लेकिन जब मैंने उन्हें अच्छी टाइमिंग के साथ रन बनाते हुए देखा तो सोचा कि मैं भी ऐसा कर सकता हूं।’’श्रेयस ने कहा कि टीम के अनुभवी स्पिनरों ने उनका काम आसान कर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनरों ने मैदान पर मेरा काम आसान कर दिया। वे अपनी रणनीति के साथ उतरते हैं और टीम बैठक में वे पहले से ही अपनी योजनाएं तैयार रखते हैं। उन्हें पता है कि वे क्या कर रहे हैं।’’रसेल की सराहना करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘उसे इतनी असानी से बड़े शॉट खेलते हुए देखकर काफी राहत मिली। शानदार हिटिंग। उमेश के साथ मेरी बात हुई। उसे कहा कि उसकी उम्र बढ़ रही है लेकिन मैंने कहा कि वह और अधिक फिट और मजबूत हो रहा है। वह अभ्यास में कड़ी मेहनत कर रहा है। वह भूखा है और टीम को जिताना चाहता है। ’’इस मुकाबले में पंजाब किंग्स टीम ने महज 102 रन के स्कोर पर अपने 7 विकेट गंवा दिए थे। कप्तान मयंक अग्रवाल तो पहले ही ओवर में चलते बने लेकिन निचले क्रम ने टीम के स्कोर को किसी तरह 137 रन तक पहुंचाया। वहीं गेंदबाजी के दौरान पंजाब की टीम ने भी शुरुआत में अपना शिकंजा था और उन्होंने 51 रन के स्कोर पर 4 विकेट झटक लिए थे लेकिन इसके बाद आंद्रे रसेल की तूफानी बल्लेबाजी से केकेआर ने आसानी से मैच को 6 विकेट से अपने नाम लिया।

सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीअगले 5 साल में सरसों का उत्पादन 200 लाख टन करने का लक्ष्य: एसईए******अगले 5 साल में सरसों का उत्पादन 200 लाख टन करने का लक्ष्य : एसईए खाने के तेल के मामले में देश को आत्मनिर्भर बनाने के मकसद से अब घरेलू खाद्य तेल उद्योग ने अगले पांच साल में देश में सरसों का उत्पादन बढ़ाकर 200 लाख टन करने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए खाद्य तेल उद्योग संगठन सॉल्वेंट एक्स्ट्रक्टर्स एसोसिएशन (एसईए) ऑफ इंडिया ने मिशन मोड में काम करने का फैसला लिया है। एसईए ने इसके लिए 'मस्टर्ड मिशन' नाम से एक परियोजना शुरू की है, जिसका पायलट प्रोजेक्ट देश के प्रमुख सरसों उत्पादक राज्य राजस्थान के कोटा और बूंदी में शुरू किया गया है, जहां 2,500 किसानों को शामिल कर 100 मॉडल फार्म तैयार किए जाएंगे। यह जानकारी के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. बी. वी. मेहता ने आईएएनएस को दी। उन्होंने कहा कि सरसों देश की प्रमुख तिलहन फसल है और खाद्य तेल के रूप में सरसों के तेल का उपयोग काफी होता है, लिहाजा सरसों का उत्पादन बढ़ाकर देश को खाद्य तेल के मामले में आत्मनिर्भर बनाना घरेलू उद्योग का लक्ष्य है।उन्होंने बताया कि इसके लिए नीदरलैंड की एक गैर-सरकारी संस्था सॉलिडरीडाड के अनुभव का उपयोग किया जाएगा। डॉ. मेहता ने बताया कि मस्टर्ड मिशन में यह संस्था सहयोगी की भूमिका निभा रही है। देश में बीते कुछ महीनों से खाने के तेल की महंगाई को देखते हुए केंद्र सरकार ने भी प्रस्तावित राष्ट्रीय खाद्य तेल मिशन (एनएमईओ) की तैयारी तेज कर दी है।हाल ही में आईएएनएस को दिए एक साक्षात्कार में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ने कहा कि सरकार जल्द ही राष्ट्रीय खाद्य तेल मिशन लांच करने वाली है। सूत्रों की मानें तो आगामी वित्त वर्ष में इस एनएमईओ को अमलीजामा पहनाया जाएगा।भारत खाने के तेल की अपनी जरूरतों का तकरीबन 70 फीसदी आयात करता है, जिसमें पाम तेल का आयात सबसे ज्यादा होता है। पाम तेल के सबसे बड़े उत्पादक इंडोनेशिया और मलेशिया में बायोडीजल कार्यक्रम में पाम तेल की खपत बढ़ने से भारत में इसका आयात महंगा हो गया है, जिसके कारण तमाम खाद्य तेलों के दाम में बीते कुछ महीने में काफी वृद्धि हुई है।सुबहउठतेहीदिखजाएयेचीजतोहोगीबल्लेबल्लेमिलेगीखुशखबरीमध्य प्रदेश उपचुनाव में BJP बनाएगी '15 महीने बनाम विकास' का नैरेटिव****** में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद भाजपा अब उपचुनाव की तैयारी कर रही है। विधानसभा का उपचुनाव शिवराज सरकार के स्थायित्व के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। लिहाजा राज्य के दिग्गज नेताओं के आलावा कई केंद्रीय नेता भी इस चुनाव में कैम्पेन करेंगे। कोरोना काल होने की वजह से इस उपचुनाव में सोशल मिडिया और वर्चुअल रैली का सहारा लेगी। पार्टी सूत्रों ने बताया कि प्रचार अभियान के पहले दौर में, पार्टी 60 वर्चुअल रैलियां करेगी, जिसकी शुरुआत पिछले महीने हो गई है। दूसरे दौर में 24 रैलियां की जाएंगी जो अगस्त से शुरू होंगी। इन रैलियों को राज्य के नेताओं के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा संबोधित करेंगे।इस बाबत मध्यप्रदेश भाजपा के नेता हितेश वाजपेयी का कहना है, कोरोना काल में प्रचार के सभी माध्यमों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके अंतर्गत डिजिटल रैली और वर्चुअल रैली का आयोजन किया जा रहा है, ताकि घर घर पहुंचा जा सके। इन रैलियों के प्रति जनता का अच्छा समर्थन भी मिल रहा है और हम कह सकते हैं कि सभी 24 विधानसभा क्षेत्रों में हमारी जीत होगी।गौरतलब है कि अन्य राज्यों की तरह यहां भी लोगों तक मैसेज पहुचाने में लिए भाजपा ने 65,000 व्हाट्सएप ग्रुप्स बनाए हैं। इन ग्रुप का भी इस्तेमाल चुनाव में किया जाएगा।इधर सोशल मीडिया के साथ साथ भाजपा विकास को भी बड़ा मुद्दा बनाने की तैयारी कर रही है। मध्यप्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता और उपाध्यक्ष प्रभात झा ने इस पर आईएएनएस से कहा कि "15 महीने की कमलनाथ सरकार के विनाश और विकास के मुद्दे पर यह चुनाव लड़ा जाएगा और वैसे भी जनता तो सिर्फ विकास चाहती है। यही स्थायी मुद्दा है।चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुक्रवार यानी 10 जुलाई को रीवा में 750 मेगावाट की एशिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा परियोजना के उद्घाटन को भी भुनाने की कोशिश भाजपा करेगी। इसके अलावा केन्द्र सरकार द्वारा प्रस्तावित चंबल एक्सप्रेस वे को भी बड़ा चुनावी मुद्दा बनाया जाएगा। इस बाबत चार जुलाई को सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री शिवराज चौहान, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच चंबल एक्सप्रेस-वे की महत्वाकांक्षी परियोजना पर चर्चा की गई थी। उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश को जोड़ने वाला 400 किलोमीटर लंबा एक्सप्रेस-वे, भाजपा के सबसे बड़े चुनावी मुद्दों में से एक है। यह एक्सप्रेस वे ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से होकर गुजरेगा, जिसमें 16 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र आते हैं।इन मुद्दों के अलावा भिंड या मुरैना में सैनिक स्कूल बनाए जाने की योजना को भी भाजपा उपचुनाव में जोर शोर से भुनाएगी। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने दिल्ली दौरे में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से भिण्ड या मुरैना में सैनिक स्कूल की स्थापना में तेजी लाने का अनुरोध किया था।प्रदेश के बासमती चावल को जीआई टैग दिए जाने पर भी बात हो रही है, जिसको 13 जिलों में पैदा किया जा रहा है। यह भी बड़ा चुनावी मुद्दा बन सकता है, खासकर तब जब ये चावल उन्हीं क्षेत्रों में ज्यादा होता है, जहां उपचुनाव होने हैं। जाहिर है पार्टी विकास के नैरेटिव को बढ़ावा देने की रणनीति पर काम कर रही है, जिससे पूरे राज्य में विकास बनाम कमलनाथ की सरकार के पंद्रह महीने के कार्यकाल का माहौल बन जाए।

सम्बंधित जानकारी
अनुशंसित सामग्री
गर्म सामग्री