नोटबंदी पर सरकार के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी तवज्‍जो, 25 नवंबर को होगी अगली सुनवाई

समय:2022-10-01 00:29:10स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:लुओयांग सिटी

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईMaharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे अपनी शर्त पर अड़े, बागी विधायकों को गुवाहाटी ले जाने की तैयारी******Highlights महाराष्‍ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार पर संकट मंडरा रहा है। शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे के साथ पार्टी के करीब 35 विधायकों ने बागी तेवर अपना लिया है। शिंदे उन बागी नेताओं के साथ गुजरात के सूरत के ली मेरेडियन होटल में डेरा डाल रखा था। अब शिवसेना के उन बागी विधायकों को वहां से गुवाहाटी ले जाया रहा है।सूरत से एकनाथ शिंदे के साथ इक्कठे विधायक गुवाहाटी जाएंगे। सूरत एयरपोर्ट पर हलचल तेज हो गई है।एयरपोर्ट पर स्पाइस जेट की फ्लाइट पहुंच चुकी है। एकनाथ शिंदे सहित करीब 33 विधायक एक साथ जाएंगे। वहीं, दो विधायक अलग से गुवाहाटी पहुंचेंग। वहीं, ये भी कहा जा रहा है कि बीजेपी के विधायकों को भी शिफ्ट किया जा सकता है।शिंदे के बागी तेवर को देखते हुए शिवसेना ने उन्हें विधायक दल के नेता के पद से हटा दिया है। इस बीच, उन्हें मनाने की भी कोशिश की जा रही है। सीएम उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे के बीच फोन पर करीब 20 मिनट तक बात हुई। इस दौरान शिंदे ने बीजेपी के साथ समझौता करने की बात कही। सीएम ठाकरे ने उन्हें मुंबई वापस आने और बात करने पर मनाया। हालांकि, शिंदे इस पर विचार करने के लिए अपने रुख पर अडिग हैं। सीएम ठाकरे से फोन पर बातचीत के दौरान शिंदे ने स्पष्ट किया कि वह अभी भी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचे हैं, ना ही उन्होंने किसी दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए हैं।गौरतलब है कि महाराष्ट्र में विधानसभा परिषद चुनाव के नतीजे आने के कुछ घंटे बाद ही एकनाथ शिंदे और उनके समर्थक विधायक सोमवार देर रात सूरत के होटल पहुंचे थे। विधान परिषद की 10 सीटों के लिए हुए चुनाव में बीजेपी ने सभी पांच सीटों पर जीत हासिल की। हालांकि, बीजेपी के पास चार उम्मीदवारों को जिताने के लिए वोट थे। एनसीपी और शिवसेना ने दो-दो सीटों पर जीत हासिल की थी। एमवीए के एक अन्य सहयोगी कांग्रेस को झटका लगा, क्योंकि पार्टी के एक एमएलसी उम्मीदवार बीजेपी के 5वें उम्मीदवार से हार गए थे।

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईNeha Kakkar ने अपने पति के लिए किया ऐसा काम, इमोशनल हुए रोहनप्रीत******Highlightsबॉलीवुड सिंगर नेहा कक्कड़ (Neha Kakkar) किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। नेहा कक्कड़ किसी न किसी वजह से आए दिन चर्चा में बनी रहती हैं। सिंगर अपनी प्रोफेशनल लाइफ से ज्यादा अपनी पर्सनल लाइफ की वजह सुर्खियां बटौरती रहती हैं। नेहा और उनके पति रोहनप्रीत की क्यूज बॉन्डिंग सभी को काफी पसंद हैं। दोनों साथ में कई गानों भी कर चुके हैं। रोहनप्रीत खुलकर नेहा के लिए अपना प्यार ज़ाहिर करते हुए नजर आते हैं। वहीं इस बार नेहा भी पीछे नहीं रही हैं।दरअसल नेहा अपने पति के लिए कुछ ऐसा कर दिखाया है। जिसने सभी का दिल जीत लिया है। हाल ही में नेहा ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट की है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वायरल हो रहे वीडियो में नेहा पहली बार टैटू बनवाती हुई नजर आ रही हैं। टैटू बनवाने के दौरान नेहा को दर्द से चिल्लाते हुए देखा जा सकता है। वह चिल्लाते हुए ‘आई लव यू रोहू....आई लव यू रोहू’ही कह रही हैं।वीडियो में आगे देखा जा सकता है कि एयरपोर्ट पर नेहा को रिसीव करने रोहनप्रीत वहां पहुंचते हैं। नेहा जब उन्हें अपने हाथ पर रोहनप्रीत के नाम का टैटू दिखाती हैं, तो वह चौंक जाते हैं। वीडियो बेहद ही प्यारा है। साथ ही इस वीडियो को शेयर करते हुए नेहा कक्कड़ ने कैप्शन में लिखा है कि - मेरा पहला टैटू, मेरे पहले प्यार के लिए। नेहा का ये सरप्राइज़ देखकर रोहनप्रीत इमोशनल नज़र आए।इतना ही नहीं उन्होंने नेहा की पोस्ट पर प्यार भरा कमेंट करते हुए लिखा, ‘तू सबसे बेस्ट वाइफ है..इस सारी दुनिया च तेरा वारगा कोई को ही नी सकदा. आई लव यू मोस्ट ।' बता दें कि रोहनप्रीत ने भी नेहा के लिए अपना प्यार दिखाते हुए उनके नाम का टैटू गुदवाया था। रोहन ने वैलेंनटाइन डे पर नेहा कक्कड़ के नाम का टैटू अपने हाथ में बनवा कर उन्हें प्यार भरा सरप्राइज दिया था। अब नेहा ने भी उनके लिए टूट बनवा लिया है। गौरतलब है दोनों 24 अक्टूबर 2020 को शादी के बंधन में बंधे थे।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईओबामा ने जारी की दुनियाभर में नशीली दवाओं को बनाने वाले देशों की लिस्ट, भारत का नाम भी शामिल****** दुनिया में नशीली दवाओं के उत्पादक देशों में 21 देशों में भारत का नाम भी शामिल है। अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नशीली दवाओं के उत्पादक देशों की सूची जारी की है। इस सूची में शामिल अन्य देशों में अफगानिस्तान, बहामास, बेलीज, बोलीविया, म्यांमार, कोलंबिया, कोस्टा रिका, डोमिनिकन रिपब्लिक, इक्वाडोर, अल सल्वाडोर, ग्वाटेमाला, हैती, होंदुरास, जमैका, लाओस, मेक्सिको, निकारागुआ, पाकिस्तान, पनामा, पेरू और वेनीजुएला शामिल हैं।जारी अधिसूचना में ओबामा ने बोलीविया, म्यांमार और वेनीजुएला को उन देशों में बताया है जो पिछले 12 महीनों में ऐसी नशीलीदवाओं की रोकथाम से जुड़े थे। लेकिन अंतरराष्ट्रीय समझौते के तहत अपनी जिम्मेदारी निभाने और उनके खिलाफ पहल करने में स्पष्ट रूप से नाकाम रहे। ओबामा ने हालांकि, यह कहते हुए म्यांमार और वेनीजुएला को मदद देना बरकरार रखने के प्रति प्रतिबद्धता जताई है और कहा है कि यह अमेरिका के राष्ट्रीय हित में है।ओबामा ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहमति बन रही है कि नशीली दवा रोधी कार्यक्रम तैयार होने चाहिए और इनका क्रियान्वयन स्वास्थ्य में सुधार और लोगों की सुरक्षा के साथ साथ हिंसा और समाज को होने वाले अन्य दुष्परिणामों को रोकने तथा कम करने के उद्देश्य से करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अमेरिका में हेरोइन में सस्ते कृत्रिम ओपियॉड विशेष तौर पर फेंटानिल ज्यादा से ज्यादा मिलाया जा रहा है। ओबामा ने कहा कि शोध से पता चलता है कि फेंटानिल और इससे जुड़ी दवाएं हेरोइन से 25-50 गुना अधिक असरदार हो सकती है।

नोटबंदी पर सरकार के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी तवज्‍जो, 25 नवंबर को होगी अगली सुनवाई

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईचालू वित्‍त वर्ष के साढ़े 9 महीनों में 18.7% बढ़ा डायरेक्‍ट टैक्‍स कलेक्‍शन, सरकार को मिले 6.89 लाख करोड़ रुपए******इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्‍याहू का भारत दौरा मोदी सरकार के लिए लकी साबित हो रहा है। बुधवार को मोदी सरकार के लिए आर्थिक मोर्चे पर तीन अच्‍छी खबरें आईं। पहली शेयर बाजार ने पहली बार 35,000 का आंकड़ा पार किया, दूसरी सरकार ने अतिरिक्‍त कर्ज लेने की सीमा को 50 हजार करोड़ से घटाकर 20 हजार करोड़ कर दिया है और तीसरी देश के डायरेक्‍ट टैक्‍स कलेक्‍शन में उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। नोटबंदी और जीएसटी से घरेलू अर्थव्‍यवस्‍था में सुस्‍ती जैसी चिंता के बाद भी आज मोदी सरकार के लिए एक और अच्‍छी खबर आई है। शेयर बाजार के पहली बार 35,000 के पार जाने की खबर सुनने के बाद अब डायरेक्‍ट टैक्‍स कलेक्‍शन में उछाल आने की खबर आई है। चालू वित्‍त वर्ष के पहले साढ़े नौ महीने में सरकार का 18.7 प्रतिशत बढ़ा है, जो राहत देने वाली बात है। एक अप्रैल 2017 से 15 जनवरी 2018 के बीच सरकार ने डायरेक्‍ट टैक्‍स के रूप में कुल 6.89 लाख करोड़ रुपए का राजस्‍व हासिल किया है।केंद्रीय प्रत्‍यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिकनोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईनवाज शरीफ ने सुप्रीम कोर्ट पर निशाना साधा, कहा 1971 वाला हाल न हो जाए****** के पूर्व प्रधानमंत्री ने खुद को अयोग्य घोषित किए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट पर निशाना साधते हुए कहा कि जनादेश का सम्मान नहीं किया गया तो देश को 1971 की तरह विभाजन का सामना करना पड़ सकता है। लाहौर हाई कोर्ट द्वारा शरीफ और उनके पार्टी सदस्यों के न्यायपालिका-विरोधी टिप्पणियों के प्रसारण पर रोक लगाए जाने के एक दिन बाद शरीफ की यह टिप्पणी सामने आई है। उन्होंने जांच में हिस्सा लेने के लिए देश की खुफिया एजेंसियों पर भी निशाना साधा। देश से बाहर संपत्ति रखने के मामले में शरीफ और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ यह जांच की गई थी।उन्होंने कहा, ‘देश के इतिहास में पहली बार खुफिया एजेंसियों (ISI और मिलिटरी इंटेलीजेंस) को ऐसे मामले की जांच के लिए संयुक्त जांच दल (JIT) में शामिल किया, जिसका ताल्लुक आतंकवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा से नहीं है। वकीलों के सम्मेलन में 67 वर्षीय शरीफ ने कहा कि उनको अयोग्य ठहराए जाने वाले सुप्रीम कोर्ट के 28 जुलाई के फैसले को लोगों ने स्वीकार नहीं किया है। उन्होंने कहा, ‘इसे देश के इतिहास के अन्यायपूर्ण फैसले के रूप में याद रखा जाएगा।’ पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के 70 साल के इतिहास में 18 प्रधानमंत्रियों को कार्यकाल पूरा करने से पहले ही घर भेज दिया गया।शरीफ ने कहा, ‘अब इसे रोका जाना चाहिए और हमें मतपत्र के सम्मान को सुनिश्चत करना चाहिए। अगर लोगों के मत का सम्मान नहीं किया गया तो मुझे डर है कि पाकिस्तान को वर्ष 1971 की तरह के हालात के सामना करना पड़ सकता है जब देश दो टुकड़ों में बंट गया था।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इस समस्या को सुलझाए बिना आगे नहीं बढ़ सकता।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईपाकिस्तान: नवाज के ‘साथी’ रहे SECP के पूर्व प्रमुख को न्यायिक हिरासत में भेजा गया****** की एक अदालत ने यहां शनिवार को देश के पूर्व सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (SECP) के अध्यक्ष जफर हेजाजी को बर्खास्त प्रधानमंत्री और उनके परिवार का अवैध रूप से समर्थन करने के आरोप में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।हिजाजी को इस महीने की शुरूआत में (FIA) ने उस वक्त गिरफ्तार किया था जब नवाज शरीफ एवं उनके परिवार के खिलाफ पनामा मामले की जांच कर रही JIT की ओर से जारी रिपोर्ट में आरोप लगाया गया था कि SECP के पूर्व प्रमुख ने चौधरी सुगर मिल्स से संबंधित रिकॉर्ड में छेड़छाड़ की। आरोप है कि पूर्व बाजार नियामक ने चौधरी शुगर मिल्स से संबंधित रिकॉर्ड बदल दिए थे।FIA ने अदालत से हेजाजी को 3 दिन की रिमांड पर देने का अनुरोध किया था, जिसे हेजाजी के वकील अजिद नफीस ने चुनौती दी थी। वकील ने तर्क दिया था कि उनका मुवक्किल पहले ही FIA की हिरासत में 7 दिन तक रह चुका है। FIA के अनुरोध को खारिज करते हुए अदालत ने हेजाजी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया।सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हेजाजी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था, जब पानामा पेपर्स मामले में अदालत की 3 सदस्यीय खंडपीठ ने JIT की रिपोर्ट पर कार्रवाई की थी। शरीफ ने शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया क्योंकि शीर्ष अदालत ने उन्हें जांच के बाद पद पर बने रहने से अयोग्य घोषित कर दिया था। जांच में उनके परिवार की विदेशों में अवैध संपत्ति का पता चला है।

नोटबंदी पर सरकार के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी तवज्‍जो, 25 नवंबर को होगी अगली सुनवाई

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईLumpy Virus का कहर जारी, राजस्थान समेत कई राज्य बुरी तरह से प्रभावित, यूपी से अच्छी खबर******Highlights राजस्थान, पंजाब और गुजरात जैसे राज्य लंपी वायरस के प्रसार से बुरी तरह प्रभावित हैं, जो अब तक देश भर में लगभग 20,57,700 जानवरों को संक्रमित कर चुका है। दूसरी ओर बड़े राज्यों में उत्तर प्रदेश इस जानलेवा बीमारी को फैलने से रोकने में कामयाब रहा है। पशुपालन और डेयरी विभाग के मुताबिक, अब तक 20,57,700 जानवर इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 97,000 से ज्यादा जानवरों की मौत हो चुकी है।राज्यों में, राजस्थान अब तक वायरस से संक्रमित लगभग 14 लाख जानवरों के साथ सबसे खराब स्थिति का सामना कर रहा है, जिनमें से 64,000 की मौत हो चुकी है। राजस्थान के बाद पंजाब है, जिसमें 1,73,159 संक्रमित जानवर हैं, जिनमें से 17,200 की मौत हो चुकी है और मृत्यु दर 10 प्रतिशत से अधिक है। गुजरात में अब तक 1,56,236 जानवर इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 5,544 की मौत हो चुकी है।इसी तरह, हिमाचल प्रदेश में 66,333 जानवर इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें से 2,993 की मौत हो चुकी है, जबकि हरियाणा में कुल 97,821 जानवरों में से 1,941 जानवरों की मौत हो चुकी है। जम्मू-कश्मीर में संक्रमित जानवरों की संख्या 32,391 है, जिनमें से 333 की मौत हो चुकी है। इसी तरह, उत्तर प्रदेश में इस वायरस से संक्रमित हुए 26,024 जानवरों में से 273 जानवरों की मौत हो चुकी है। अधिकारियों ने कहा कि लंपी रोग के प्रसार को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के प्रयास सकारात्मक परिणाम दिखा रहे हैं। छह सबसे बड़े और सबसे गंभीर रूप से प्रभावित राज्यों की तुलना में यूपी लम्पी वायरस के प्रसार को रोकने में सबसे सफल राज्य के रूप में उभरा है।पशुधन और डेयरी विकास मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा, मुख्यमंत्री के निर्देश के अनुसार, हम टीम 9 की स्थापना करके एक नियमित मूल्यांकन कर रहे हैं, टीम 9 कोविड के प्रकोप के दौरान बनाई गई थी। हमने एक अहम इलाज और टीकाकरण प्रयास शुरू किया है। हम वायरस को नियंत्रण में रखने में कामयाब रहे हैं। राज्य के पश्चिमी हिस्से में 26 जिले लंपी रोग से प्रभावित हैं। योगी सरकार की ओर से वायरस के खिलाफ त्वरित और प्रभावी कार्रवाई के परिणामस्वरूप मृत्यु दर सिर्फ 1 प्रतिशत है, जबकि 64 प्रतिशत संक्रमित जानवर ठीक हो चुके हैं। पशुओं को इस बीमारी से बचाने के लिए सरकार नियमित टीकाकरण करा रही है।इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए यूपी सरकार ने रणनीति तैयार की, जिसके तहत रिंग और बेल्ट बनाकर सघन टीकाकरण किया जा रहा है। बेल्ट-1 नेपाल से मध्य प्रदेश तक 320 किमी लंबा है, जबकि बेल्ट-2 बुंदेलखंड क्षेत्र में बनाया गया है, जो 155 किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है। अंतरराज्यीय एवं अंतर्जिला सीमा से सटे गांवों एवं प्रखंडों में पशुओं के टीकाकरण को प्राथमिकता दी जा रही है। राज्य में टीकाकरण के लिए 1,126 टीमों का गठन किया गया है, जिसके परिणामस्वरूप लगभग 50 लाख पशुओं को टीका लगाया गया है। सरकार ने 10 अक्टूबर तक 1 करोड़ टीके लगाने का लक्ष्य रखा है। राज्य में 1.22 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज उपलब्ध हैं।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईLok Sabha Elections 2019: महाराष्ट्र और गोवा की किस लोकसभा सीट पर कब होगा मतदान? ये रहा पूरा चुनाव कार्यक्रम******रविवार को चुनाव आयोग द्वारा की तारीखों का ऐलान कर दिया है। चुनाव आयोग ने 11 अप्रैल से 19 मई के दौरान चुनाव कराने का फैसला किया है और मतगणना 23 मई को होगी। चुनाव 7 चरणों में होगा कुछेक राज्य ऐसे हैं जहां सबी 7 चरणों में वोटिंग होगी जबकि कुछ राज्य ऐसे हैं जिनमें सीधे 1 चरण या 3-4 चरण में मतदान होगा। और गोवा की बात करें तो इस बार महाराष्ट्र में 4 चरण और गोवा में सीधे 1 चरण में मतदान होगा।गोवामें सीधे1 चरण को मतदान होगा, राज्य की उत्तरी गोवा और दक्षिणी गोवालोकसभासीट पर तीसरे चरण यानि23 अप्रैल को मतदानकिया जाएगा।

नोटबंदी पर सरकार के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी तवज्‍जो, 25 नवंबर को होगी अगली सुनवाई

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईBihar Politics: बिहार में कांग्रेस की लॉटरी, नई सरकार में मिल सकते हैं इतने मंत्री पद******Highlights बिहार में (Nitish Kumar) के नेतृत्व में बनने वाली नई गठबंधन सरकार में कांग्रेस को 4 मंत्री पद मिल सकते हैं। सूत्रों ने यह जनकारी दी है। सूत्रों ने यह भी बताया कि बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने और महागठबंधन की तरफ से नई सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद नीतीश कुमार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से बात की व समर्थन के लिए उनका आभार जताया।कांग्रेस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि नई सरकार में कांग्रेस को चार मंत्री पद मिल सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस की विधानसभा अध्यक्ष का पद पाने की भी इच्छा थी, लेकिन नीतीश इसके लिए तैयार नहीं दिखते। कांग्रेस कोटे से जिन नेताओं के मंत्री बनने की संभावना है उनमें प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, विधायक दल के नेता अजीत शर्मा और वरिष्ठ नेता राजेश राम के नाम प्रमुख हैं। पार्टी किसी अल्पसंख्यक नेता को भी मौका दे सकती है। सूत्रों ने बताया कि 2015 के फॉर्मूले पर मंत्रिमंडल का गठन होने पर पार्टी कोटे के मंत्रियों को शिक्षा, भू-राजस्व और कुछ अन्य विभागों का प्रभार मिल सकता है।बिहार में महागठबंधन की नई सरकार का कल बुधवार को दोपहर 2 बजे शपथ ग्रहण होगा। वरिष्ठ जेडीयू नेता नीतीश कुमार मुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। सूत्रों के मुताबिक, राजभवन में दोपहर 2 बजे एक सादे समारोह में दोनों नेता शपथ लेंगे।नीतीश कुमार के जदयू और तेजस्वी के राजद सूत्रों ने कहा कि बाद में दो सदस्यीय मंत्रिमंडल में और मंत्रियों को शामिल किया जाएगा। बीजेपी नीत एनडीए को छोड़ नीतीश कुमार 8वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वह सात दलों के गठबंधन का नेतृत्व करेंगे। इस गठबंधन को एक निर्दलीय का समर्थन प्राप्त है। वहीं, तेजस्वी यादव दूसरी बार उपमुख्यमंत्री के पद पर शपथ लेंगे। वहीं, जेडीयू की गठबंधन सहयोगी रही भाजपा ने नीतीश कुमार पर ‘‘धोखा’’ देने का आरोप लगाया है।

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईPM Modi Jharkhand Visit: पीएम मोदी के देवघर दौरे में ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों को लगाई जाएगी प्री-कॉशन डोज, जारी किए गए दिशा-निर्देश******Highlights 12 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देवघर दौरे से पहले स्थानीय प्रशासन हरकत में आ गया है। प्रशासन पीएम मोदी के इस दौरे को सफल बनने में जुटा हुआ है। राज्य में कोविड के केस भी एकाएक बढ़ रहे हैं, जिसके बाद जिला प्रशासन और भी सख्ती बरत रहा है। पीएम मोदी के दौअरे के दौरान ड्यूटी पर रहने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए प्रशासन ने दिशा-निर्देश जारी किये हैं।एक खबर के अनुसार पीएम मोदी के 12 जुलाई को प्रस्तावित देवघर दौरे के दौरान ड्यूटी पर तैनात झारखंड सरकार के अधिकारियों और कर्मचारियों को प्री-कॉशन वैक्सीन लगाएगी। एक अधिकारी ने बताया कि, "देवघर जिला प्रशासन ने राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए बृहस्पतिवार को यह निर्णय लिया है।" आपको बता दें कि झारखंड में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 102 नए मामले सामने आए थे। इनमें से 11 मामले देवघर में दर्ज किए गए थे। हालांकि, बृहस्पतिवार को राज्य में संक्रमण से किसी की भी मौत नहीं हुई थी।पीएम मोदी अपनी इस यात्रा के दौरान देवघर हवाईअड्डे का उद्घाटन करेंगे, जो 401 करोड़ रुपये की लागत से 657 एकड़ भूमि पर बनाया गया है। इसमें 2,500 मीटर लंबा रनवे भी मौजूद है, इस रनवे पर एयरबस ए320 जैसे बड़े विमानों का उड़ान भरना और लैंडिंग करना भी संभव है। हवाईअड्डे में छह चेक-इन काउंटर के साथ 5,130 वर्ग फीट का टर्मिनल भवन बनाया गया है, जिससे एक बार में 200 यात्री प्रवेश कर सकते हैं।वहीं पीएम मोदी के इस दौरे से पूर्व गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे ने बताया कि, "पीएम मोदी का देवघर का यह दौरा ऐतिहासिक होगा। इस दौरान को वे एयरपोर्ट समेत कई अन्य सौगातें जनता को समर्पित करेंगे। इस दौरान वे बाबा बैद्यनाथ की पूजा-अर्चना करेंगे और आशीर्वाद लेंगे।" उन्होंने बताया कि, "पीएम मोदी के इस दौरे का सिर्फ देवघर या गोड्डा ही नहीं बल्कि पूरा झारखंड इंतजार कर रहा था। क्योंकि इसी दौरे से झारखंड को उसका दूसरा अंतर्राष्ट्रीय और विश्वस्तरीय एयरपोर्ट मिलने जा रहा है।" इसके साथ ही पीएम मोदी का 14 जुलाई से शुरू हो रहे श्रावणी मेले से पहले बाबा बैद्यनाथ धाम में पूजा-अर्चना करने का भी कार्यक्रम है। श्रावणी मेले को झारखंड का सबसे बड़ा सामाजिक-धार्मिक आयोजन माना जाता है, जहां हर साल सावन के महीने में देश-विदेश से औसतन 35 लाख से अधिक श्रद्धालु जुटते हैं।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईपत्रकार मर्डर केस: राम रहीम पर फैसला आज, पंचकूला में धारा 144 लागू****** एक पत्रकार की हत्या के मामले में पंचकूला अदालत द्वारा शुक्रवार को फैसला सुनाए जाने के मद्देनजर हरियाणा और पंजाब के कई क्षेत्रों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख इस मामले में आरोपी है। हरियाणा में, विशेषकर पंचकूला, सिरसा (डेरा मुख्यालय) और रोहतक जिलों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। यहां कानून व्यवस्था से जुड़ी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए राज्य सशस्त्र पुलिस की कई कंपनियों, दंगा विरोधी पुलिस और कमांडो बल को तैनात किया जा रहा है। पंचकूला पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम किए हैं जिसके तहत पंचकूला में धारा-144 लगाई गई है। के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मोहम्मद अकील ने कहा, "हरियाणा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।" पुलिस अधिकारी ने कहा कि सभी जिलों की पुलिस को लोगों को गैरजरूरी रूप से जमा होने से रोकने और अतिरिक्त निगरानी रखने के निर्देश दिये गए हैं। उन्होंने कहा कि कई इलाकों में नाकेबंदी भी की गई है। पुलिस ने कहा कि सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय के नजदीक अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है।अगस्त 2017 में राम रहीम को सजा सुनाए जाने के दौरान हरियाणा के सिरसा और पंचकूला में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हो गए थे। 51 वर्षीय राम रहीम अपनी दो अनुयायियों के बलात्कार के जुर्म में रोहतक की सुनारिया जेल में 20 साल की सजा काट रहा है।सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की 2002 में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया था। परिवार की याचिका पर सुनवाई करते हुए अदालत ने इसकी जांच नवंबर 2003 को सीबीआई को सौंप दी थी। सीबीआई ने जांच के बाद 2007 में कोर्ट में चालान पेश कर दिया था। इसमें डेरा मुखी गुरमीत राम रहीम को हत्या की साजिश रचने के आरोप में धारा 120बी आईपीसी में आरोपी ठहराया गया था। 11 जनवरी को इस मामले में सीबीआई कोर्ट में फैसला होने की संभावना है।

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईअमेरिका के कैलिफोर्निया में बेकाबू हुई आग, मृतकों की संख्या 50 पहुंची******उत्तरी एवं दक्षिणी के जंगलों में लगी आग बेकाबू हो गई है। यहां हजारों दमकल कर्मी आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे हैं। अमेरिकी राज्य के इतिहास में सबसे घातक इस घटना के मृतकों की तलाश के लिए खोजी दल जली हुए कारों एवं घरों का मलबा खंगाल रहे हैं।इस भीषण आग में राज्य में अब तक कम से कम 50 लोगों की मौत की खबर आ चुकी है और सैकड़ों लापता है। मृतकों की संख्या और बढ़ने की आशंका है।ज्यादातर मौतें पैराडाइज कस्बे के भीतर और आस-पास लगी तथाकथित “कैंप फायर” के कारण हुई हैं। 26,000 की आबादी वाला यह राज्य सिएरा नेवेडा पहाड़ियों के तल में स्थित है।शेरिफ कोरी होनिया ने एक संवाददाता सम्मेलन को बताया, “आज छह और शव बरामद हुए जिससे मृतकों की कुल संख्या 48 पर पहुंच गई है। सभी छह मृतकों के अवशेष पैराडाइज में उनके घर से बरामद हुए हैं।” अन्य दो मौतें लॉस एंजिलिस के उत्तर में लगी “वूलसे फायर’ से हुई हैं।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईCongress Slams On BJP: "भाजपा के पास आम लोगों की समस्या का कोई जवाब नहीं", गोविंद सिंह डोटासरा ने सरकार पर साधा निशाना******Highlightsमहंगाई पर कांग्रेस के विरोध को राम जन्मभूमि स्थापना दिवस से जोड़ने को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं पर निशाना साधते हुए कांग्रेस की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने शनिवार को कहा कि भाजपा नेताओं के पास ज्वलंत मुद्दों का कोई जवाब नहीं है और इसीलिए वे इस मुद्दे से ध्यान भटकाकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं।डोटासरा ने कहा, ‘‘महंगाई और बेराजगारी के विरोध को राम जन्मभूमि स्थापना दिवस से कैसे जोड़ा जा सकता है और इसे राम भक्तों का अपमान कैसे कहा जा सकता है? यह विरोध बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और आवश्यक वस्तुओं पर जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर लगाने) जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर था। इन मुद्दों ने आम आदमी को बुरी तरह प्रभावित किया है। चूंकि उनके (भाजपा नेताओं) पास इन मुद्दों का कोई जवाब नहीं है, इसलिए वे लोगों को केवल गुमराह करने के लिए एक हास्यास्पद कहानी लेकर आये हैं।’’आम जनता के दुख-दर्द से भाजपा का कोई लेना-देना नहीं -गोविंद सिंह डोटासारागोविंद सिंह डोटासारा ने आम आदमी के परेशानियों के लेकर कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश करने के बजाय कांग्रेस पार्टी द्वारा जनता के हित में उठाये गए मुद्दों पर बोलना चाहिए। उन्होंने कहा,‘‘मोदी सरकार और भाजपा को लोगों की परवाह नहीं है और उनका लोगों की पीड़ा से कोई लेना देना नहीं है, इसलिये वे इस तरह के हास्यास्पद बयान देकर जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं।’’उल्लेखनीय है कि शाह ने शुक्रवार को महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों पर कांग्रेस नेताओं के विरोध को पार्टी की ‘‘तुष्टिकरण’’ की राजनीति से जोड़ा। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन इसलिए किया गया ताकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2020 में इस दिन राम मंदिर की नींव रखे जाने का विरोध किया जा सके। उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने भी कहा कि अयोध्या दिवस पर काले कपड़े पहनकर कांग्रेस का विरोध करना राम भक्तों का अपमान है।

नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईलंदन: ग्रीनफेल टॉवर आग्निकांड में लापता 58 के मरने की आशंका****** लंदन के ग्रीनफेल टॉवर में अभी तक लापता कम से कम 58 लोगों के मारे जाने की आशंका है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। बीबीसी के मुताबिक, ताजा आंकड़ों में पश्चिमी लंदन के टॉवर में हुए अग्निकांड में बुधवार को बताई गई 30 लोगों की मौत की पहले ही पुष्टि हो चुकी है। लंदन पुलिस के कमांडर स्टुअर्ट कंडी ने कहा कि हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है और राहत कार्यो में अभी समय लग सकता है। उन्होंने कहा, "यथासंभव जल्द से जल्द हम लापता प्रियजनों का पता कर लेंगे और उन्हें बरामद कर लेंगे।"ब्रिटेन में पिछले करीब तीन दशक में यह सबसे भीषण अग्निकांड है। लेटिमेर रोड पर स्थित लैंकेस्टर वेस्ट एस्टेट के ग्रेनफेल टावर में स्थानीय समयानुसार रात एक बज कर 16 मिनट पर आग लगी। समझा जाता है कि जब इमारत आग की लपटों से घिर गई, तब करीब 600 लोग टावर के 120 फ्लैटों में मौजूद थे।समझा जाता है कि आग आधी रात के ठीक बाद तीसरी और चौथी मंजिल पर एक खराब रेफ्रीजरेटर के कारण लगी और यह फैलती चली गई। हालांकि, महानगर पुलिस ने कहा है कि आग लगने की वजह की पुष्टि करने से पहले उसे कुछ वक्त चाहिए। गौरतलब है कि ग्रेनफेल टावर इलाके के आसपास काफी संख्या में मुसलमान रहते हैं। कई लोग आग लगने के वक्त जगे हुए थे। वे रमजान के दौरान सहरी की तैयारी कर रहे थे।नोटबंदीपरसरकारकेखिलाफयाचिकाओंपरसुप्रीमकोर्टनेनहींदीतवज्‍जो25नवंबरकोहोगीअगलीसुनवाईकांग्रेस-पाटीदार साथ-साथ, आरक्षण पर बन गई बात, हार्दिक पटेल आज राजकोट में करेंगे फॉर्मूले का ऐलान******अहमदाबाद में कांग्रेस और पाटीदारों के बीच आरक्षण के मुद्दे पर सहमति बन गई है। ये सहमति कांग्रेस और की बैठक में बनी। कांग्रेस पाटीदार आरक्षण को संवैधानिक दर्जा देने को तैयार हो गई है। मीटिंग के बाद कांग्रेस ने ऐलान किया कि हार्दिक पटेल कल राजकोट में आरक्षण के फॉर्मूले की घोषणा करेंगे। गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने कहा कि पाटीदारों ने चुनाव में टिकट की मांग नहीं की है।बता दें कि रविवार शाम हुई इस मीटिंग में के सभी बड़े नेता शामिल हुए। हार्दिक पटेल खुद तो इस मीटिंग में नहीं थे लेकिन उनके बाकी करीबी कांग्रेस नेताओं से बात करने पहुंचे थे। मीटिंग के बाद गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने कहा कि बातचीत कामयाब रही और सभी मुद्दे सुलझा लिए गए हैं। क्या फैसला हुआ है, इसकी जानकारी कल यानी सोमवार को हार्दिक पटेल खुद राजकोट में देंगे।हार्दिक के करीबी सहयोगी दिनेश ने बताया, ‘‘पहले हमने कांग्रेस से स्पष्ट करने को कहा था कि वह पाटीदारों को संवैधानिक तौर पर मान्य आरक्षण कैसे देगी। आज हमने इस मुद्दे पर एक अहम बैठक की और आखिरकार पार्टी की ओर से हमें पेशकश किए गए विभिन्न विकल्पों पर आम राय पर पहुंच गए। इस समझौते की आधिकारिक घोषणा कल राजकोट में हार्दिक द्वारा की जाएगी।’’बैठक के बाद उन्होंने पत्रकारों को बताया, ‘‘मैं कह सकता हूं कि आरक्षण देने के कांग्रेस के फार्मूले पर हम पार्टी के साथ हैं। हमने ‘पास’ को टिकट देने के बारे में कोई चर्चा नहीं की है। हार्दिक कल ऐलान करेंगे कि ‘पास’ चुनावों में कांग्रेस का समर्थन करेगी कि नहीं।’’‘पास’ नेताओं के साथ हुई बैठक में गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धार्थ पटेल एवं बाबू भाई मनगुकिया शामिल थे। सोलंकी ने दावा किया कि बैठक से ‘‘सकारात्मक परिणाम’’ मिला है। उन्होंने कहा, ‘‘बैठक सफल रही और परिणाम सकारात्मक रहा। हम दोनों आने वाले दिनों में इस समझौते पर अमल के लिए सहमत हुए।’’

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री