PAK vs AUS: पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज और इकलौता T20I नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, ये है वजह

समय:2022-10-01 00:08:23स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:हुनान प्रांत

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहBihar CET B.Ed Result 2022 Declared: बिहार बीएड प्रवेश परीक्षा के नतीजे जारी, इस तरह करें चेक******Highlightsबिहार में बीएड प्रवेश परीक्षा के नतीजे जारी हो गए हैं। ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी (LNMU), दरभंगा ने बिहार बी.एड कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (Bihar B.Ed CET) 2022 के नतीजे जारी कर दिए हैं। जो उम्मीदवार इस परीक्षा में शामिल हुए थे, वह आधिकारिक वेबसाइट biharcetbed-lnmu.in पर विजिट करके नतीजे चेक कर सकते हैं।ये परीक्षा 6 जुलाई 2022 को आयोजित की गई थी। इसका केंद्र पटना, छपरा, गया, भागलपुर, आरा, हाजीपुर, दरभंगा, मधेपुरा, मुंगेर, मुजफ्फरपुर और पूर्णिया में था। इसकी आंसर की 7 जुलाई 2022 को आई थी।Bihar B.Ed CET 2022 Counselling: इस बात का रखें ध्यानजो कैंडीडेट इस परीक्षा में सफल हुए हैं, वह जल्दी ही अपनी काउंसलिंग और रजिस्ट्रेशन की तैयारी कर लें। रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा 25 जुलाई 2022 से 4 अगस्त 2022 तक ही है। इसके बाद कैंडीडेट रजिस्ट्रेशन नहीं कर सकेंगे।How to check Bihar B.Ed CET Result 2022: कैसे चेक करें नतीजेस्टेप 1: आधिकारिक वेबसाइट biharcetbed-lnmu.in पर जाएं।स्टेप 2: होम पेज पर ‘Click here for result’ के लिंक पर पर क्लिक करें।स्टेप 3: आपके सामने नया पेज खुलेगा। लॉगइन आईडी और पासवर्ड भरें।स्टेप 4: रिजल्ट चेक करें और उसे डाउनलोड कर लें।

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहकोविड-19 के खिलाफ ‘गंभीर और जटिल’ हालात का सामना कर रहा चीन, आए हजारों नए केस******Highlightsओमिक्रॉन वेरिएंट के कारण कोविड-19 के अब तक के सबसे कठिन दौर का सामना कर रहे चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने हालात को ‘गंभीर और जटिल’ बताया। साथ ही बुजुर्गों में कोविड के प्रसार को लेकर भी अधिकारियों ने चिंता जाहिर की है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक एक मार्च से देश में संक्रमण के 56,000 से ज्यादा मामले आ चुके हैं। इनमें से आधे से अधिक मामले उत्तर-पूर्वी जिलिन प्रांत में आए हैं और इसमें बिना लक्षण वाले मामले भी शामिल हैं। हॉन्गकॉन्ग के मामले इसमें शामिल नहीं हैं। के रोग नियंत्रण केंद्र (CDC) के संक्रामक बीमारी विशेषज्ञ वू जुनयू ने कहा, ‘चीन ‘जीरो कोविड’ के लक्ष्य का पालन करने की दिशा में काम कर रहा है क्योंकि यह कोविड-19 के खिलाफ रोकथाम की सबसे कारगर रणनीति है। इस नीति से ही महामारी के छिपे हुए खतरे का उन्मूलन संभव है।’ ‘जीरो कोविड’ नीति के तहत लॉकडाउन और करीबी संपर्क की जांच समेत बड़े पैमाने पर जांच, संदिग्ध व्यक्ति को घर पर पृथक-वास या सरकारी केंद्र में भेजना शामिल है। इस नीति का ध्यान समुदाय के बीच जल्द से जल्द संक्रमण के प्रसार को रोकना है। कई बार इसके लिए पूरे शहर में लॉकडाउन भी किया जाता है।स्वास्थ्य अधिकारियों ने 60 साल या इससे अधिक उम्र के लोगों के लिए चिंता जताई है। पिछले हफ्ते जारी राष्ट्रीय स्तर के आंकड़ों के मुताबिक 60 साल या इससे अधिक उम्र के 5.2 करोड़ से अधिक लोगों को टीके की खुराक नहीं लगी है। बूस्टर खुराक दिए जाने की दर भी धीमी है। हॉन्गकॉन्ग के हालात ने बुजुर्ग लोगों को टीकाकरण के महत्व को उजागर किया है। सीडीसी के अधिकारी जुनयू के अनुसार, अर्ध-स्वायत्त क्षेत्र हॉन्गकॉन्ग में रोजाना मौत के 200 से ज्यादा मामले आ रहे हैं।हॉन्गकॉन्ग में से होने वाली मौतों में बड़ी संख्या उन लोगों की रही है, जिनका पूरी तरह से टीकाकरण नहीं हुआ था। इनमें से ज्यादातर बुजुर्ग थे। हॉन्गकॉन्ग में शुक्रवार को संक्रमण के 10,401 नए मामले आए।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहCBSE Boards 2020: सीबीएसई ने 12वीं की परीक्षा में किया बड़ा बदलाव, अब 20 अंक का होगा ऑब्जेक्टिव******केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) इंटरमीडिएट परीक्षा में अगले वर्ष 2020 से बड़े बदलाव करने जा रहा है। इसमें बोर्ड की तरफ से 10वीं व 12वीं के सभी विषयों के प्रश्नपत्रों में दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों की सख्या कम होगी। जबकि 20-20 अंकों के ऑब्जेक्टिव प्रश्न छात्रों से पूछे जाएंगे। सीबीएसई की ओर से यह बदलाव वार्षिक परीक्षा-2020 से किए जाएंगे।सीबीएसई की 12वीं परीक्षा में 20 ऑब्जेक्टिव, तीन अंकों के दो प्रश्न अति लघु उत्तरीय और चार अंकों के पांच लघु उत्तरीय प्रश्न होंगे। छह अंक वाले दीर्घ उत्तरीय प्रश्न तीन होंगे, जबकि आठ अंकों के दीर्घ उत्तरीय दो प्रश्न होंगे। छात्रों से 80 अंकों के लिए 32 प्रश्न इंटरमीडिएट की परीक्षा में पूछे जाएंगे।वहीं सीबीएसई की 10वीं परीक्षा में छात्रों को एक-एक अंकों के 20 ऑब्जेक्टिव प्रश्न, दो अंकों के छह प्रश्न, तीन अंकों के आठ लघु उत्तरीय प्रश्न एवं चार अंकों के छह दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों के जवाब देने होंगे। सीबीएसई के नगर समन्वयक डॉ. राजीव रंजन ने बताया कि 10वीं व 12वीं परीक्षा में 20 ऑब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जाएंगे। यह 20 अंकों के लिए होगा। यह बदलाव आगामी 2020 में होने वाली परीक्षा से प्रभावी हो जाएगा।सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय भारद्वाज ने बताया कि 10वीं व 12वीं परीक्षा-2020 के लिए कई बदलाव किए गए हैं। बोर्ड के अधिकारियों की तरफ से इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही। 12वीं के छात्र इसके लिए तैयार हो सकें, इसके लिए सितंबर तक बदले हुए 12वीं के सभी विषयों के प्रश्न पत्र बोर्ड की वेबसाइट पर जारी कर दिया जाएगा। जिससे छात्र सभी विषयों के सैंपल पेपर को समझ सकें और उनके पैटर्न को जान सकें। 2020 की बोर्ड परीक्षा के तहत जो नए बदलाव हुए हैं, उसकी रूपरेखा में खुद को ढाल सकें।

PAK vs AUS: पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज और इकलौता T20I नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, ये है वजह

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहवित्त वर्ष 2017-18 में आर्थिक वृद्धि दर रहेगी 7.4 प्रतिशत, इंडिया रेटिंग्‍स ने जताया अनुमान****** रेटिंग एजेंसी इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च ने कहा कि वित्‍त वर्ष 2017-18 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है।इंडिया रेटिंग्‍स का मानना है कि वित्त वर्ष 2018 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर सालाना आधार पर 7.4 प्रतिशत रहेगी, हालांकि 2016-17 के लिए जीडीपी वृद्धि दर के अपने अनुमान को 7.9 प्रतिशत से घटाकर 6.8 प्रतिशत किया गया है, जो कि केंद्रीय सांख्यिकी संगठन के 7.1 प्रतिशत के अग्रिम अनुमान से भी कम है।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहSheetala Ashtami 2022: कब है शीतला अष्टमी? जानिए इस दिन कैसे करें माता को प्रसन्न?******Highlightsचैत्र मास के कृष्ण पक्ष के अष्टमी के दिन शीतला अष्टमी मनाई जाती है। इस दिन खास तौर पर माता शीतला की पूजा की जाती है। इस बार शीतला अष्टमी 25 मार्च को पड़ रही है। शीतला अष्टमी को बसौड़ा भी कहा जाता है। इस दिन के प्रसाद का भी खास महत्व है। माता शीतला को बासी भोग चढ़ाया जाता है और लोग इसी भोग को प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं। लोग सप्तमी के दिन माता शीतला के लिए हलवा और पूड़ी का भोग तैयार करते हैं और सुबह अष्टमी को यह भोग माता को अर्पित किया जाता है। आइए जानते हैं इस खास पर्व का महत्व।माता शीतला स्वच्छता की देवी हैं। ये हमें पर्यावरण को साफ-सुथरा रखने की प्रेरणा देती हैं। अतः इस दिन आस-पास साफ-सफाई का पूरा ख्याल रखना चाहिए और संभव हो तो कोई एक पेड़-पौधे भी अवश्य लगाना चाहिए। इससे पर्यावरण में और आपके परिवार में भी शुद्धता बनी रहेगी।घर-परिवार की सुख-समृद्धि में बढ़ोतरी के लिए, अपने बिजनेस को अनजाने खतरों से बचाए रखने के लिये, देवी मां की कृपा से जीवन में सफलता पाने के लिए, अपने हर काम में लाभ पाने के लिये और कामयाबी हासिल करने के लिए देवी शीतला की उपासना की जाती है।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहभारत में 100 करोड़ के पास पहुंची मोबाइल ग्राहकों की संख्‍या, जियो को मिले 14.59 करोड़ यूजर्स****** देश में मोबाइल ग्राहकों की संख्या जल्‍द ही 100 करोड़ के पार पहुंचने वाली है। हाल में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार नवंबर में यह बढ़कर 97.54 करोड़ पर पहुंच गई है। सेल्युलर आपरेटर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (सीओएआई) की एक रिपोर्ट के अनुसार नवंबर के दौरान कुल 83.3 लाख नए मोबाइल कनेक्शन दिए गए। इस अनुमान में रिलायंस जियो के 14.59 करोड़ कनेक्शनों के साथ अक्तूबर अंत तक के आंकड़े शामिल हैं। वहीं एमटीएनएल के 36 लाख कनेक्शन के आंकड़े भी शामिल हैं। सीओएआई ने बयान में कहा कि इन आंकड़ों में रिलायंस जियो इन्फोकॉम, एमटीएनएल के अक्तूबर अंत तक के आंकड़े शामिल हैं।नवंबर तक 28.95 करोड़ कनेक्शनों तथा 29.68 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ भारतीय एयरटेल शीर्ष पर है। वहीं वोडाफोन 21.1 करोड़ कनेक्शनों के साथ दूसरे, आइडिया सेल्युलर 19.4 करोड़ कनेक्शनों के साथ तीसरे स्थान पर है।

PAK vs AUS: पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज और इकलौता T20I नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, ये है वजह

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहकोरोना वायरस को लेकर आई अच्छी खबर, एक दिन में ठीक हुए 11 मरीज******नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर भारत में सोमवार 23 मार्च को एक पॉजिटिव खबर आई। सोमवार को एक दिन में कोरोना वायरस से पीडित 11 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इन मरीजों के ठीक होने के बाद कुल ठीक हुए मामलों की संख्या 34 पहुंच गई है। सरकार ने यह महामारी और नहीं फैले इसके लिए कई कदम उठाए है। देश के 20 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने कोरोना वायरस के चलते अपने-अपने यहां पूर्ण लॉकडाउन के आदेश दिए हैं और छह अन्य राज्यों ने भी अपने कुछ क्षेत्रों में इसी तरह के प्रतिबंधों की घोषणा की है।केंद्र सरकार ने राज्यों से यह भी कहा है कि यदि जरूरी हो तो अतिरिक्त प्रतिबंध भी लागू किए जाएं। पंजाब और महाराष्ट्र ने अपने यहां कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को कहा, ‘‘20 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने पूर्ण लॉकडाउन के आदेश जारी किए हैं।’’ उन्होंने कहा कि छह अन्य राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने भी अपने कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन लागू किया है।देश में 28 राज्य और आठ केंद्रशासित प्रदेश हैं। तीन अन्य राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने कुछ गतिविधियों पर रोक लगाने का निर्देश जारी किया है जिससे कि बड़ी संख्या में लोग एकत्र न हो सकें। लॉकडाउन के आदेश के बावजूद लोगों के बाहर घूमने के कारण पंजाब और महाराष्ट्र के बाद पुडुचेरी ने भी कर्फ्यू के आदेश जारी किए हैं जिससे कि लोग बाहर न निकल सकें।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य सरकारों से अपील की है कि वे कोरोना वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराएं क्योंकि कई लोग कदमों को गंभीरता से नहीं ले रहे। उन्होंने हिन्दी में ट्वीट किया, ‘‘लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आपको बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।’’पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहएसिडिटी से राहत दिलाने में सहायक हैं ये 3 चीजें, जानिए कब और कितना सेवन करने से होगा फायदा******एसिडिटी एक बहुत आम समस्या है। इस समस्या के पीछे बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे सीने में जलन, गैस, खट्टी डकार और पेट में दर्द होना। इससे निजात पाने के लिए बाजार में कई तरह की दवाएं मिल जाएंगी, जिनसे इंस्टेंट रिलीफ मिल तो जाता है, लेकिन इनसे कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। अगर आपको ज्यादा तकलीफ नहीं है तो दवाई लेने के बजाए आप कुछ घरेलू उपायों को भी अपना सकता हैं। ये आपको साइड इफेक्ट्स के खतरे से भी बचाएगा। आइए जानें कि एसिडिटी की दिक्कत होने पर किन चीजों की मदद से छुटकारा पाया जा सकता है।दालचीनी की चाय एसिडिटी की परेशानी से आराम दिला सकती है। एसिडिटी होने पर एक ग्लास पानी में आधा चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाकर अच्छी तरह उबाल लें। इसका स्वाद बेहतर करने के लिए इसमें थोड़ा-सा गुड़ भी मिला सकते हैं।एसिडिटी की समस्या को दूर करने के लिए अजवाइन काफी मददगार हो सकती है। ये न सिर्फ आपको एसिडिटी से तुरंत राहत दिलाएगी, बल्कि गैस, पेट दर्द, सीने में जलन और खट्टी डकार से राहत देने के साथ ही हाजमे को दुरुस्त रखने में भी मदद करेगी। इसके लिए आप एक चम्मच अजवाइन को पीसें और उसे खा लें। इसके अलावा अजवाइन को भूनकर या पानी में उबालकर भी इसका सेवन किया जा सकता है।एसिडिटी की दिक्कत से छुटकारा पाने के लिए आप गुड़ की मदद ले सकते हैं। खाने के बाद गुड़ का एक टुकड़ा खा लें। इसके अलावा गुड़ को पानी में उबालकर भी इस पानी का सेवन किया जा सकता है। गुड़ में प्रोटीन, विटामिन, मिनरल, आयरन, पोटैशियम और कॉपर की उच्च मात्रा होती है। इन सभी गुणों की मदद से एसिडिटी की परेशानी दूर होती है।

PAK vs AUS: पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज और इकलौता T20I नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, ये है वजह

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहSalman Khan: ‘भाईजान’ का पहला लुक हुआ आउट, लंबे बालों और गॉगल्स में सलमान खान दिखे सुपर स्टाइलिश, फैंस हुए क्रेज़ी******Highlights बॉलीवुड के दबंग खान यानी की सलमान खान इस दिनों अपनी फिल्म 'टाइगर 3' और 'भाईजान' की शूटिंग खत्म करने में लगे हुए हैं। अक्सर सलमान की दोनों फिल्मों के सेट से उनकी तस्वीरें और वीडियो लीक होते रहते हैं। लेकिन, आज दबंग खान ने खुद सोशल मीडिया पर अपनी एक तस्वीर साझा की है, जिसमें उनका नया लुक सामने आ रहा है। सलमान खान की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं।सलमान खान ने आज अपने इंस्टाग्राम से अपनी एक बेहद खूबसूरत तस्वीर शेयर की है। तस्वीर में सलमान लेह लद्दाख में पोज देते नजर आ रहे हैं। इस फोटो को शेयर करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा है 'लेह लद्दाख।' इस तस्वीर में उनका बिंदास अंदाज़ देखते ही बन रहा है। लंबे खुले बाल, गॉगल्स और बैक पोज देते हुए सलमान बेहद स्टाइलिश नज़र आ रहे हैं। इस फोटो में उनके पास एक बाइक भी दिख रही है।सलमान खान के फैंस को उनका ये स्टाइलिश अंदाज बहुत पसंद आ रहा है। वह लगातार उनके पोस्ट पर कमेंट कर उनकी तारीफ कर रहे हैं। फैंस के साथ-साथ उनके इस पोस्ट पर सेलेब्स भी कमेंट कर रहे हैं। एक फैन ने लिखा, 'लव यू भाईजान।' दूसरे ने लिखा,'आग लगा डाली भाई।' इसके साथ ही कुछ फैंस पोस्ट पर फायर और हार्ट इमोजी ड्रॉप कर रहे हैं।आमिर खान की फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' और अक्षय कुमार की फिल्म ‘रक्षाबंधन’ को बॉयकॉट करने की मांग के बाद अब सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर सलमान खान भी आ गए हैं। हाल ही में उनकी फिल्म 'टाइगर 3' ट्रोलर्स के निशाने पर आ गई थी। उनकी फिल्म 'टाइगर 3' को लेकर भी ट्विटर पर बायकॉट की मांग की जा रही है। लेकिन इसी बीच सलमान ने लेह लद्दाख से अपनी ये तस्वीर शेयर कर अपने फैंस और ट्रोलर्स दोनों का दिल जीत लिया।मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सलमान अगले कुछ दिनोंतक लेह-लद्दाख में शूटिंग करेंगे। इस फिल्म की शूटिंग अक्टूबर तक खत्म होने की उम्मीद की जा रही है। वर्कफ्रंट की बात करें तो सलमान खान ‘'टाइगर 3' और 'भाईजान' में नज़र आनेवाले हैं।

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजह'लव आज कल' बॉक्स ऑफिस कलेक्शन डे 1: सारा अली खान और कार्तिक आर्यन की फिल्म ने पहले दिन कमाए इतने करोड़****** और की फिल्म '' वैलेंटाइन डे के मौके पर रिलीज हो चुकी है। यह एक रोमांटिक फिल्म है जिसमें दो कहानियां एक साथ चलती हैं। फिल्म को ऑडियन्स और क्रिटिक दोनों के ही मिक्स रिव्यू मिले हैं। वैलेंटाइन डे होने की वजह से फिल्म के बिजनेस को काफी फायदा हुआ है। 'लव आज कल' का पहले दिन का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन सामने आ गया है।ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श केमुताबिक फिल्म ने पहले दिन 12.40 करोड़ का बिजनेस किया है। वैलेंटाइन डे फिल्म के लिए फायदे का सौदा रहा। अगर बीते दिन वैलेंटाइन डे नहीं होता है रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म लगभग 8.50 करोड़ का बिजनेस करती।'लव आज कल' में सारा और कार्तिक के साथ रणदीप हुड्डा और आरुषि शर्मा अहम भूमिका निभाते नजर आए हैं। फिल्म में सारा और कार्तिक दोनों ही अपना कमाल नहीं दिखा पाए। दोनों को केमिस्ट्री भी ऑडियन्स को कुछ खास पसंद नहीं आई है। मगर रणदीप हुड्डा और आरुषि के काम की तारीफ जरुर की गई है।'लव आज कल' को इम्तियाज अली ने डायरेक्ट किया है। यह 2009 में आई फिल्म 'लव आज कल' का सीक्वल है।जिसमें सैफ अली खान और दीपिका पादुकोण अहम भूमिका निभाते नजर आए थे।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहचोरी छिपे लड़कों के प्रोफाइल पर ये 5 चीजें देखती हैं लड़कियां, 5वीं जानकर हैरान रह जाएंगे आप******अगर आप ये समझते हैं कि कोई लड़की आपके सोशल मीडिया प्रोफाइल पर आपकी फोटो देखकर क्लिक करेगी औऱ आपको रिक्वेस्ट भेज देगी, तो आप गलतफहमी में है। दरअसल लड़कियां लड़कों के प्रोफाइल में बहुत अजब गजब चीजें खोजती हैं। ऐसी चीजें जिनके बारे में लड़के अंदाजा भी नहीं लगा सकते। ऐसे में हर लड़के के लिए ये जानना जरूरी है कि अपनी प्रोफाइल में ऐसे क्या बदलाव करें ताकि उसकी प्रोफाइल ज्यादा से ज्यादा लोग खोज सकें।हर हिंदुस्तानी की तरह लड़कियां भी लड़के की प्रोफाइल में सबसे पहले जॉब देखती हैं। इंजीनियर, डॉक्टर ही नहीं बल्कि लड़कियां ऐसे प्रोफाइल पसंद करती हैं, जिसमें लड़का किसी ऊंचे करियर वाले कोर्स के लिए नामी इंस्टीट्यूट में पढ़ रहा हो। आर्मी से जुड़े लोगों की प्रोफाइल पर लड़कियां ज्यादा भरोसा करती हैं। और हां, अगर आपकी उम्र 25 से 35 साल के बीच है और आप अपने आपको किसी पार्टी का नेता या कार्यकर्ता बता रहे हैं तो लड़कियां ऐसी प्रोफाइल से दूर भाग जाएंगी। इतना ही नहीं स्टेटस में बिजनैसमेन लिखने वाले लोगों के प्रोफाइल पर लड़कियां लाइक नहीं करती।लड़कियां प्रोफाइल फोटो पर भले न गौर करें लेकिन आपके प्रोफाइल में मौजूद आपकी गैलरी में झांके बिना नहीं रह सकती। वो जानना चाहती हैं कि आप किस तरह की लाइफ जीते हैं। आप कितने डूड हैं और कितने कूल। वो आपके फोटो खंगालेंगी, उन्हें रिलेट करेंगी और फिर कल्पना करेंगी कि आपके साथ उनकी दोस्ती कैसी रहेगी।जाहिर तौर पर लड़कियां मेरिटल स्टेटस देखती हैं। लड़कियां ही क्या, कोई भी देखेगा कि आप दोस्ती या किसी रिलेशनशिप के लिए कमेटिड हैं या नहीं। लेकिन अगर आप मैरिड हैं तो अपना स्टेटस सिंगल रखने की भूल न करें। ये न केवल नैतिक तौर पर गलत होगा बल्कि इससे आपके प्रोफाइल पर लोग भरोसा नहीं करेंगे। इसके अलावा लड़कियां फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजते समय देखती हैं कि आपके और उनके बीच कितने कॉमन फ्रैंड्स हैं। वो दोस्त भरोसेमंद और साफ छवि वाले होने चाहिए। अगर आपके प्रोफइल में विदेशी लोग ज्यादा हैं तो भी लड़कियां आपके प्रोफाइल से दूर रहेंगी।आप पोस्ट करते समय कैसी लेंग्वेज यूज करते हैं, ये भी लड़कियों की उत्सुकता बढ़ाता है। अगर आप ठेठ देसी भाषा को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूज करते हैं तो काफी पॉसिबिलिटीज हैं कि लड़कियां आपसे दूर रहें। मेट्रो सिटीज के कूल डूड और डीसेंट लड़के लड़कियों को ज्यादा भाते हैं। इसलिए पोस्ट करते समय भाषा पर संयम जरूर रखें।लड़कियां ये भी देखती हैं कि आप किस तरह के पेज लाइक करते हैं, और किस किस ग्रुप में हैं। यदि आप किसी समाज को बिलॉन्ग करने वाले पेजेस को लाइक करते हैं, कट्टरपंथी ग्रुप से जुडे हैं तो लड़कियां आपसे दूर रहेंगी। अगर आप म्यूजिक, लिटरेचर जैसे ग्रुप से जुड़े हैं तो लड़कियां आपको फ्रैंड रिक्वेस्ट भेजने में देर नहीं लगाएंगी।

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहAssam News: महिला पत्रकार के खिलाफ अपमानजनक पोस्ट करने पर असम के आयुर्वेद स्पेशलिस्ट पर FIR दर्ज******Highlights असम के एक आयुर्वेद विशेषज्ञ पर मंगलवार को यहां एक महिला पत्रकार के खिलाफ कथित अपमानजनक सोशल मीडिया पोस्ट के लिए मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने इसकी जानकारी दी है। आरोपी बीजेपी की सहयोगी पार्टी AGP का सदस्य है।आरोपी सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सहयोगी असम गण परिषद (AGP) का सदस्य है और मामला दर्ज होने के बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। जिस व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है वह स्थानीय टेलीविजन का एक जाना-पहचाना चेहरा है और टीवी कार्यक्रमों में विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए ट्रेडिशनल मेडिसिन की सलाह देता है। पत्रकार द्वारा सोमवार को उसके खिलाफ लिखित शिकायत दी गई।पुलिस ने बताया कि उक्त मामले में जांच शुरू कर दी गई है। हाल ही में, आरोपी ने सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए एक वीडियो में महिलाओं के खिलाफ कुछ कथित भद्दी टिप्पणियां की थीं। एक डिजिटल मीडिया हाउस में कार्यरत पत्रकार के पति ने एक समाचार पोस्ट में उसके विचारों की आलोचना की थी। प्रत्यक्ष तौर पर अपने खिलाफ नेगेटिव न्यूज से नाराज़ मेडिकल स्पेशलिस्ट ने फेसबुक पर पत्रकार के पति पर निशाना साधा।एक स्थानीय टीवी चैनल के लिए काम करने वाली महिला पत्रकार ने पीटीआई को बताया, ''उसने फिर मेरे नाम को आरोपों में घसीट मेरा चरित्र हनन करना शुरू कर दिया, मुझ पर अभद्र टिप्पणियां की। मैं काफी मानसिक दबाव में हूं और चाहती हूं कि व्यक्ति को गिरफ्तार किया जाए और उस पर कानून के अनुसार मुकदमा चलाया जाए।'' AGP ने आरोपी को तत्काल प्रभाव से पार्टी से सस्पेंड कर दिया है। गुवाहाटी प्रेस क्लब ने आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहGold Rate Today: विवाह सीजन शुरू होने से पहले आई खुशखबरी, सोने में 766 रुपए और चांदी में 1148 रुपए की बड़ी गिरावट******Gold prices plummet Rs 766, silver also tumbles Rs 1,148 रुपया मजबूत होने तथा कमजोर वैश्विक रुख के बीच गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने का भाव 766 रुपए गिरकर 40,634 रुपए प्रति 10 ग्राम रह गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। सोने की कीमतों में कमजोरी को देखते हुए चांदी की कीमत भी 1,148 रुपए की हानि के साथ 47,932 रुपए प्रति किलोग्राम रह गई। बुधवार को चांदी का भाव 49,080 रुपए प्रति किलोग्राम था। सोना बुधवार को 41,400 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज परामर्श प्रमुख (पीसीजी) देवर्ष वकील ने कहा कि अमेरिका और ईरान के गंभीर सैन्य टकराव की स्थिति से एक कदम पीछे हटने के बाद गिरावट रही और निवेशकों ने वैश्विक शेयर जैसे जोखिम वाली आस्तियों में निवेश किया।अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने और चांदी में कमजोरी का रुख रहा और कारोबार के दौरान इनके भाव क्रमश: 1,546 डॉलर प्रति औंस और 17.93 डॉलर प्रति औंस पर चल रहे थे।उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने में कमजोरी और रुपए के मजबूत होने से घरेलू सोने की कीमतें प्रभावित हुई। बाजार की करीबी निगाह शादी विवाह के मौसम की खुदरा मांग पर रहेगी।अमेरिका और ईरान द्वारा युद्ध की भाषा पर कुछ विराम लगने के बाद वैश्विक बाजारों में स्थिरता लौटी और अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 22 पैसे की तेजी के साथ 71.48 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया।

पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहकूलपैड ने लॉन्‍च किए आज अपने 3 नए स्मार्टफोन, कीमत है इनकी 3,999 रुपए से शुरू******coolpad चीनी स्मार्टफोन निर्माता ने गुरुवार को अपनी मेगा सीरीज के तहत तीन नए स्मार्टफोन भारतीय बाजार में लॉन्‍च किए, जिनकी कीमत 3,999 रुपए से शुरू होती है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि नई डिवाइस-मेगा 5, मेगा 5सी और मेगा 5एम की कीमतें क्रमश: 6,999 रुपए, 4,499 रुपए और 3,999 रुपए हैं। कूलपैड समूह के दक्षिण एशिया के अध्यक्ष फिशर यूआन ने कहा कि भारत कूलपैड के सबसे बड़े बाजारों में से एक है, हम मेगा सीरीज के उत्पादों के साथ अपने ब्रांड की ऑफलाइन उपस्थिति बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं।मेगा 5 में 5.7 इंच का फुल विजन एचडीप्लस डिस्पले हैं, जिसका आस्‍पेक्‍ट रेश्‍यो 18:9 है। इसमें 13 मेगापिक्सल प्लस 0.3 मेगापिक्सल का ड्युअल पिछला कैमरा तथा 5 मेगापिक्सल का अगला कैमरा है।इसमें मीडियाटेक का एमटी6739 कवाडकोर प्रोसेसर के साथ 3जीबी रैम और 32जीबी का इंटरनल स्टोरेज दिया गया है। इसमें 3,000 एमएएच की बैटरी लगी है तथा यह एंड्रॉयड 8.1 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है।मेगा 5सी में 5.45 इंच का फुल विजन एचडी प्लस डिस्प्ले हैं। इसमें 1.3 गीगाहर्ट्ज का क्‍वाडकोर प्रोसेसर है। वहीं, मेगा 5एम में 5 इंच का एचडी डिस्प्ले है तथा इसमें 1.2 गीगाहर्ट्ज का क्‍वाडकोर प्रोसेसर है। दोनों ही फोन में 1 जीबी रैम और 16 जीबी की इंटरनल मेमोरी दी गई है, जिसे 32 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है।पाकिस्तानकेखिलाफवनडेसीरीजऔरइकलौताT20Iनहींखेलपाएंगेस्टीवस्मिथयेहैवजहआर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए सवर्ण आरक्षण बिल लोकसभा में पास, 323 सांसदों ने किया समर्थन****** से पहले बड़ा कदम उठाते हुए ने सोमवार को लोकसभा मेंसामान्य वर्ग के ‘’ लोगों के लिए नौकरियों एवं शिक्षा में से संबंधितबिलको पास कर दिया।केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने इस विधेयक को लोकसभा में पेश किया था। इस विधेयक के पास होने पर संविधान में 124वां संशोधन करने का रास्ता साफ हो गया है। यह संशोधन संविधान के अनुच्छेद 15 और 16 में किया गया है, जिसके बाद सामान्य वर्ग के गरीब लोगों के लिए आरक्षण का रास्ता साफ हो गया है।वहीं, राज्यसभा का सत्र भी एक दिन यानी 9 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया गया है। कहा जा रहा है कि लोकसभा से बिल को मंजूरी मिलने के बाद अब इसे बुधवार को इसे राज्य सभा में भी पेश किया जा सकता है।खास बात यह है कि केंद्र सरकार के इस प्रस्ताव को कई विपक्षी पार्टियां भले ही चुनावी स्टंट करार दे रही हैं, लेकिन किसी ने भी इसका खुलकर विरोध नहीं किया है। वहीं, कांग्रेस ने भी लोकसभा में इस बिल का समर्थन करने का फैसलाकिया है। इससेपहलेबहुजनसमाजपार्टी की प्रमुख मायावती ने भी बिल को समर्थन देने की बात कही थी।आपको बता दें कि प्रस्तावित आरक्षण अनुसूचित जातियों (SC), अनुसूचित जनजातियों (ST) और अन्य पिछड़ा वर्गों (OBC) को मिल रहे आरक्षण की 50 फीसदी सीमा के अतिरिक्त होगा। इसका अर्थ यह है कि सामान्य वर्ग के ‘आर्थिक रूप से कमजोर’ लोगों के लिए आरक्षण लागू हो जाने पर यह आंकड़ा बढ़कर 60 फीसदी हो जाएगा। इस प्रस्ताव पर अमल के लिए संविधान संशोधन विधेयक संसद से पारित कराने की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि संविधान में आर्थिक आधार पर आरक्षण का कोई प्रावधान नहीं है। इसके लिए संविधान के अनुच्छेद 15 और अनुच्छेद 16 में जरूरी संशोधनकरेगी।अब तक संविधान में एससी-एसटी के अलावा सामाजिक एवं शैक्षणिक तौर पर पिछड़े वर्गों के लिए आरक्षण का प्रावधान है, लेकिन इसमें आर्थिक रूप से कमजोर लोगों का कोई जिक्र नहीं है। संसद में संविधान संशोधन विधेयक पारित कराने के लिए सरकार को दोनों सदनों में कम से कम दो-तिहाई बहुमत जुटाना होगा। राज्यसभा में सरकार के पास बहुमत नहीं है।बिल का संसदसे सड़क तक विरोध करेंगे, आबादीके हिसाब से आरक्षण मिले: आरजेडीसामाजिक-आर्थिकभेदभावखत्मकरनेकी कोशिश:अरुणजेटलीबड़े दिल के साथ बिल का समर्थन करे लेफ्ट:अरुणजेटलीकांग्रेस ने 2014 केघोषणापत्र में सामान्य वर्ग केगरीबोंको आरक्षणदेनेका वादाकियाथा:अरुणजेटली​सवर्णों को एससी-एसटी और ओबीसी से ज्यादा आरक्षण नहीं: अरुण जेटली​आरक्षण पर पिछली सरकारों ने जुमलेबाजी की: अरुण जेटलीआरक्षण पर जुमले की शरुआत विपक्ष ने की: अरुण जेटली​संसद में पास होने के बाद आरक्षण लागू हो सकता है, विधानसभा से पास कराने की जरुरत नहीं। प्रमोशन में आरक्षण मामले में भी ऐसा ही था: अरुण जेटली​सवर्ण आरक्षण पर पिछली सरकारों द्वारा सही प्रयास नहीं किए: अरुण जेटली​सरकार के फैसले से सभी वर्गो को लाभ मिलेगा: थावरचंद गहलोत​मौजूदाआरक्षण में छेड़छाड के बिना, गरीबों को मिलेगाआरक्षण:थावरचंद गहलोत​​​गरीबस्वर्णो को मुख्यधारा में लाने की कोशिश:थावरचंदगहलोतसामान्य वर्ग के गरीबों को आरक्षण की जरुरत:थावरचंदगहलोत​(क) दुकानों, सार्वजानिक भोजनालयों, होटलों और सार्वजानिक मनोरंजन के स्थानों में प्रवेश, या(ख) पूर्ण या आंशिक रूप से राज्य निधि से पोषित या साधारण जनता के प्रयोग के लिए समर्पित कुओं, तालाबों, स्नानघाटों, सड़कों और सार्वजानिक समागम के स्थानों के उपयोग के सम्बन्ध में किसी भी निर्योग्यता, दायित्व, निर्बन्धन या शर्त के अधीन नहीं होगा।

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री