Jammu Kashmir: आतंकियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

समय:2022-10-01 00:51:44स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:क़िआंजिआंग

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरविनायक चतुर्थी 2017: इस शुभ मुहूर्त में ऐसे करें मंत्रों के साथ श्री गणेश की पूजा, होगी हर इच्छा पूरी******गणेश जी की पूजा के बाद इस मंत्र को पढ़कर भगवान को प्रणाम करना चाहिएभगवान गणेश ने 108 अवतार लिए, लेकिन इन अवतारों में से ये 8 अवतार मुख्य माने जाते है। इन अवतारों का वर्णन आपको गणेशपुराण,मुद्गलपुराण, गणेश अंक आदि ग्रंथो में मिल जाएगा। जानिए श्रीगणेश के इन 8 अवतारों के बारें में। श्री गणेश के इन नामों का रोज स्मरण करना चाहिए- वक्रतुंड, लंबोदर, एकदंत, महोदर, गजानन, विकट, धूम्रवर्ण और विघ्नराज।

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरBigg Boss 13 Latest Promo: सलमान खान की अचानक एंट्री से उड़ गए घरवालों के होश, सिद्धार्थ शुक्ला को पड़ी फटकार******पॉपुलर रिएलिटी शो वीकेंड का वार में शो के होस्ट ने घरवालों को जबरदस्त सरप्राइज दिया, लेकिन इस सरप्राइज से कंटेस्टेंट्स के होश उड़ गए। सलमान ने नाराजगी ज़ाहिर करते हुए पूछा कि उन लोगों के अंदर कब सुधार आएगा!कलर्स ने इंस्टाग्राम पर आज के एपिसोड का प्रोमो शेयर किया है, जिसमें दिखाया गया है कि विशाल आदित्य सिंह और सिद्धार्थ शुक्ला के बीच लड़ाई चल रही है, क्योंकि विशाल ने कैप्टन सिद्धार्थ के कमरे में जाकर चोरी-छिपे फ्रिज से पास्ता निकालकर खा लिया।इसके बाद सिद्धार्थ उन्हें गालियां देने लगे। थोड़ा शांत होने के बाद वो टीवी के सामने सोफे पर बैठे ही थे कि अचानक ही सलमान खान ने बिना दस्तक दिए एंट्री मारी। उन्हें देख सिद्धार्थ के होश उड़ गए। घरवाले भी भागते हुए सोफे पर जाकर बैठने लगे।इसके बाद सलमान खान खुद एग्रेशन दिखाकर सिद्धार्थ शुक्ला से पूछते हैं कि आपका बोलने का टोन ऐसा ही है ना? फिर सलमान नाराजगी ज़ाहिर करते हुए कहते हैं कि हमेशा का एक ही टाइम है। अनाउंसमेंट भी हुई, लेकिन आप लोगों का ध्यान कहीं और था। घर का माहौल कब सुधरेगा?अब देखना होगा कि सलमान खान का गुस्सा शांत होगा या फिर घरवाले अपने अंदर कोई सुधार करेंगे!आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरमुद्रास्फीति नियंत्रण में, सरकार को 3.3% राजकोषीय घाटे का लक्ष्य हासिल करने का भरोसा: अरुण जेटली******सरकार चालू वित्त वर्ष में 3.3 प्रतिशत के राजकोषीय घाटे के लक्ष्य पर अडिग रहेगी। सरकार को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष में उसका कर राजस्व बेहतर रहेगा और वह वर्ष के लिये तय विनिवेश लक्ष्य को भी पार कर लिया जायेगा। वित्त मंत्री ने शनिवार को यह कहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वित्त मंत्रालय के विभिन्न विभागों के कामकाज की समीक्षा की। इस बैठक के बाद जेटली ने कहा कि सरकार को 2018-19 के बजट में अनुमानित सकल घरेलू उत्पाद की 7.2 से 7.5 प्रतिशत के वृद्धि को पार कर लेने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि मुद्रास्फीति नियंत्रण में है।वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘हम राजकोषीय घाटे के लक्ष्य पर कायम रहेंगे।’’ इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पूंजी व्यय के लक्ष्य को भी हासिल किया जाएगा। जेटली ने कहा कि आधार बढ़ने से कर संग्रह बेहतर रहेगा और यह संग्रह बजट अनुमान से अधिक रहेगा। उन्होंने कहा कि माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में चीजें दुरुस्त हो रही हैं। उन्होंने भरोसा जताया कि विनिवेश से एक लाख करोड़ रुपये हासिल करने का लक्ष्य भी पार कर लिया जायेगा।

Jammu Kashmir: आतंकियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरAN32 विमान हादसा: मलबे के पास पहुंचा बचाव दल, सभी 13 जवानों के मारे जाने की पुष्टि******अरुणाचल के सियांग जिले में 3 जून को लापता हुए का मलबा मिल गया है। मलबे के पास पहुंचे बचाव दल ने वायु सेना के सभी 13 जवानों के मारे जाने की पुष्टि की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक 15 सदस्‍यीय राहत एवं बचाव दल आज सुबह विमान के मलबे के पास पहुंचा। इस बचाव दल को बुधवार को मलबे के निकट हेलिड्रॉप किया गया था। इस दुखद हादसे में मारे गए सभी लोगों के परिवार को इसकी सूचना दे दी गई है।इस बीच भारतीय वायु सेना ने भी इस हादसे में मारे गए जवानों के नाम जारी कर दिए हैं। इस विमान में मारे गए सदस्‍यों में विंग कमांडर जीएम चार्ल्‍स, स्‍क्‍वार्डन लीडर एच विनोद, फ्लाइट लेफ्टिनेंट आर थापा, फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए तंवर, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एस मोहंती और फ्लाइट लेफ्टिनेंट एमके गर्ग के साथ वॉरंट ऑफिसर केके मिश्रा, सारर्जेंट अनूप कुमार, कारपोरल शेरिन, लीड एयरक्राफ्ट मैन एसके सिंह, लीट एयरक्राफ्ट मैन पंकज, नॉन-काम्‍बेटेंट कर्मचारी पुतली और राजेश कुमार शामिल हैं।इससे पहले विमान के मलबे तक पहुंचने के लिए बुधवार को एक 15 सदस्‍यीय विशेषज्ञ दल को हेलिड्रॉप किया गया था। इस दल में एयरफोर्स, आर्मी के जवान और पर्वतारोही शामिल थे। बचाव दल को पहले एयरलिफ्ट करके मलबे के पास ले जाया गया और फिर उन्‍हें हेलिड्रॉप किया गया। इससे पहले मंगलवार को भारतीय वायुसेना के लापता विमान AN-32 का मलबा अरुणाचल के सियांग जिले में देखा गया था। दुर्घटना वाला इलाका काफी ऊंचाई पर और घने जंगलों के बीच है, ऐसे में विमान के मलबे तक पहुंचना सबसे चुनौतीपूर्ण काम था।आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरइस एक्टर के कारण रफ्तार ने छोड़ा Roadies का साथ, जानिए शो छोड़ने पर और क्या कहा******Highlights MTV इंडिया का चर्चित शो 'रोडीज' इन दिनों कुछ अन्य कारण से ही चर्चा में है। 'रोडीज' का 18 वां सीजन आने वाला है। मगर उससे पहले इस शो के असल चेहरे गायब होते जा रहे हैं। सिंगर रफ्तार ने भी शो छोड़ने का ऐलान किया है। अब वो इस शो में नजर नहीं आने वाले हैं। इस शो के छोड़ने का कारण भी रफ्तार ने बताया है।सिंगर और रैपर रफ्तार का शो छोड़कर जाना फैंस के लिए बुरी खबर है। मगर इसके साथ ही रफ्तार ने अपने नए प्रोजेक्ट के बारे में भी बताया है जिसे सुनने के बाद उनके चाहने वाले खुश हो सकते हैं। शो छोड़ने का एक मुख्य कारण यह है कि वो नया प्रोजेक्ट शुरू करने जा रहे हैं।इंडियन एक्सप्रेस को रफ्तार ने बताया है कि, अब वो एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ मिलकर नया प्रोजेक्ट करने जा रहे हैं। दरअसल, रफ्तार और नवाज मिलकर एक मूवी बनाने वाले हैं। इस कारण उनको शो छोड़ना पड़ा। बता दें, इस प्रोजेक्ट को लेकर वो 2020 में घोषणा कर चुके थे।हालांकि, रफ्तार ने शो में हुए कुछ बदलाव को लेकर भी इशारा किया। हालांकि उन बदलावों को लेकर खुलकर नहीं बोले। मगर उनकी बातों से साफ समझ आ गया कि शो में हुए बदलाव रफ्तार को पसंद नहीं थे। अब मामला जो भी हो लेकिन रफ्तार 'रोडीज' में नहीं दिखेंगे।बता दें, करीब 18 साल तक इस शो से जुड़े रहे होस्ट रणविजय सिंह, मेंटर्स रह चुकी नेहा धूपिया और प्रिंस नरूला रफ्तार से पहले ही शो छोड़ चुके हैं। हालांकि अब देखना है कि इस शो को होस्ट करने के लिए नए चेहरे कौन-कौन होते हैं।आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरIPL 2018 RR VS MI: बेहद रोमांचक मैच में गौतम ने आखिरी ओवर में छक्का लगाकर दिलाई टीम को जीत******मुंबई इंडियंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले गए बेहद रोमांचक मुकाले में राजस्थान की टीम ने बाजी मार ली। ये मैच बेहद रोमांचक रहा और हर गेंद के साथ पासा पलट रहा था। आखिर में के गौतम राजस्थान की जीत के हीरो रहे और उन्होंने आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर छक्का जड़कर अपनी टीम को जीत दिला दी। राजसिथान की टीम ने 168 रनों के लक्ष्य को 19.4 ओवरों में 7 विकेट खोकर हासिल किया। राजस्थान की तरफ से संजू सैमसन ने 52, स्टोक्स ने 40, के गौतम ने 33 रनों की पारी खेली।

Jammu Kashmir: आतंकियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरआकलन वर्ष 2018-19 में करोड़पति करदाताओं की संख्या 20 प्रतिशत बढ़कर 97,689 हुई******taxpayers आकलन वर्ष 2018-19 में करोड़पति की संख्या 20 प्रतिशत बढ़कर 97,689 पर पहुंच गई है। द्वारा शुक्रवार को जारी कर रिटर्न आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। आकलन वर्ष 2017-18 में एक करोड़ रुपए से अधिक की करयोग्य आय वाले करदाताओं की संख्या 81,344 थी। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड () ने वित्त वर्ष 2018-19 तक अद्यतन आंकड़े और आकलन वर्ष 2018-19 (वित्त वर्ष 2017-18) के नियमित समयांतराल पर जारी आय वितरण के आंकड़े जारी किए हैं। इन आंकड़ों में कंपनियों, फर्मों, हिंदू अविभाजित परिवार और व्यक्तिगत लोगों की आय वितरण सूचना दी गई है। यदि सभी करदाताओं को इसमें शामिल किया जाए, तो एक करोड़ रुपए से अधिक की सालाना कर योग्य आय वाले लोगों की संख्या 1.67 लाख है। यह आकलन वर्ष 2017-18 की तुलना में 19 प्रतिशत अधिक है।आंकड़ों के अनुसार 15 अगस्त, 2019 तक कुल 5.87 करोड़ आयकर रिटर्न दाखिल किए गए। आंकड़ों के अनुसार 5.52 करोड़ से अधिक व्यक्तिगत लोगों, 11.13 लाख हिंदू अविभाजित परिवारों, 12.69 लाख फर्मों और 8.41 लाख कंपनियों ने रिटर्न दाखिल किया है।आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरIPL 2019 Final: आईपीएल इतिहास के सबसे सफल विकेटकीपर बने एमएस धोनी, दिनेश कार्तिक को पीछे छोड़ा******हैदराबाद। चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी रविवार को आईपीएल के इतिहास में सबसे सफल विकेटकीपर बन गये। धोनी के आईपीएल में कुल शिकार की संख्या 132 पहुंच गयी है और इस तरह से उन्होंने दिनेश कार्तिक को पीछे छोड़ा है।धोनी ने मुंबई इंडियन्स के खिलाफ आईपीएल फाइनल में दो कैच लिये। उनके नाम पर अब 94 कैच और 38 स्टंप आउट शामिल हैं। कार्तिक के नाम पर 131 शिकार दर्ज हैं जबकि रोबिन उथप्पा ने 90 शिकार किये हैं।धोनी ने दीपक चाहर की गेंद पर रोहित शर्मा का कैच लेकर यह उपलब्धि हासिल की। इससे पहले उन्होंने शार्दुल ठाकुर की गेंद पर क्विंटन डिकाक का कैच लिया था।

Jammu Kashmir: आतंकियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ में 4 आतंकी ढेर

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरविस्‍तारा ने शुरू की फेस्‍टीवल फ्लाइट डिस्‍काउंट सेल, 1149 रुपए में मिल रहा है इन शहरों के लिए हवाई टिकट****** घरेलू एयरलाइन कंपनी विस्‍तारा ने आज 48 घंटे तक चलने वाली फेस्‍टीवल फ्लाइट नाम से डिस्‍काउंट सेल की घोषणा की है। इस सेल में इकोनॉमी क्‍लास का किराया 1149 रुपए और प्रीमियम इकोनॉमी क्‍लास का किराया 2099 रुपए के न्‍यूनतम स्‍तर से शुरू होगा। इन सस्‍ते टिकटों की बिक्री मंगलवार रात 12 बजे से शुरू होगी।एयरलाइन ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि इस नई सेल के तहत बुकिंग 11 अक्‍टूबर को रात 12:01 बजे शुरू होगी और 13 अक्‍टूबर को शुक्रवार को रात 11:59 बजे बंद हो जाएगी। इस दौरान 28 अक्‍टूबर 2017 से लेकर 24 मार्च 2018 तक यात्रा करने के लिए टिकटों को बुक किया जा सकेगा। कंपनी ने कहा है कि 15 दिन एडवांस खरीद अनिवार्य है।विस्‍तारा के चीफ स्‍ट्रेट्जी और कॉमर्शियल ऑफि‍सर संजीव कपूर ने कहा कि एक एयरलाइन द्वारा प्रकाश के त्‍योहार दीवाली को अपने ग्राहकों के साथ मनाने के लिए एयरलाइन के लिए फेस्‍टीवल ऑफ फ्लाइट से बेहतर और क्‍या रास्‍ता हो सकता है। इस सेल के जरिये, हमारे ग्राहकों को इस साल अंतिम बार त्‍योहार और अवकाश के लिए बहुत कम दामों पर एयर टिकट बुक करने का मौका मिलेगा। लेकिन उन्‍हें इसके लिए जल्‍दी कदम उठाना होगा, क्‍योंकि सीट सीमित हैं और इनकी बिक्री बहुत तेजी से होने की उम्‍मीद है।एयरलाइन ने अपनी विज्ञप्ति में कहा है कि इस सेल के तहत यात्री दिल्‍ली-चंडीगढ़ और दिल्‍ली-अमृतसर की टिकट क्रमश: 1199 रुपए और 1299 रुपए में बुक करवा सकते हैं। इसी प्रकार दिल्‍ली-श्रीनगर की टिकट 1699 रुपए, दिल्‍ली-लेह, दिल्‍ली-रांची और दिल्‍ली-मुंबई के लिए 2099 रुपए, दिल्‍ली-बेंगलुरु के लिए 2899 रुपए और दिल्‍ली-गोवा के लिए 2999 रुपए में टिकट बुक करवा सकेंगे।

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरभारत में शुरू हुई Oppo F3 प्लस ब्लैक एडिशन की बिक्री, डुअल सेल्‍फी कैमरे से है लैस****** मार्च में Oppo F3 प्‍लस भारत में लॉन्‍च हुआ था। 1 अप्रैल से इस स्‍मार्टफोन के गोल्‍ड वैरिएंट की बिक्री शुरू हुई थी। इसके ब्‍लैक वैरिएंट की बिक्री 15 अप्रैल से शुरू हुई है। इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन स्‍टोर से खरीदा जा सकता है।Oppo F3 प्लस की सबसे बड़ी खासियत इसका डुअल सेल्फी कैमरा है। इस फोन में अपर्चर एफ/2.0 के साथ 16MP 1/3.1 इंच सेंसर जबकि दूसरा सेंसर 8MP का है। पहले सेंसर में 76.4 डिग्री वाइड-एंगल लेंस जबकि दूसरे सेंसर में 120 डिग्री वाइड-एंगल लेंस दिया गया है। इनसे 105 डिग्री FoV ग्रुप सेल्फी ली जा सकती है। फोन इस्‍तेमाल करने वाले अपनी जरूरत के मुताबिक लेंस का चुनाव कर सकते हैं। यह स्मार्टफोन स्मार्ट फेशियल रिकॉग्निशन फीचर के साथ आता है जिससे यह अपने आप जरूरी लेंस का सुझाव देता है। स्मार्टफोन में कई दूसरे कैमरा फीचर जैसे ब्यूटीफाई 4.0 ऐप, सेल्फी पैनोरमा, स्क्रीन फ्लैश और पाम शटर भी दिए गए हैं।Oppo F3 प्लस में होम बटन में ही फिंगरप्रिंट सेंसर इंटीग्रेटड है। इसके 0.2 सेकेंड में फोन को अनलॉक करने का दावा किया गया है। कंपनी फिगंरप्रिंट के जरिए ऐप खोलने और कॉल शॉर्टकट की भी बात कह रही है। डुअल सिम (नैनो-सिम) वाला Oppo F3 प्लस में एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो आधारित कलरओएस 3.0 है। इसमें 6 इंच फुल एचडी (1080×1920 पिक्सल) जेडीआई इन-सेल 2.5D कर्व्ड डिस्प्ले है जो कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 प्रोटेक्शन के साथ आता है। इसमें 1.95GHz ऑक्टा-कोर क्‍वालकॉम स्नैपड्रैगन 652 प्रोसेसर है। ग्राफिक्स के लिए एड्रीनो 510 GPU और 4GB रैम है। नंबर बदलने की सूचना दोस्‍तों को खुद ही देगा व्‍हाट्सऐप, चल रही है इस नए फीचर की टेस्टिंगOppo F3 प्लस का रियर कैमरा 16MP का है जिसमें सोनी IMX398 सेंसर है जो 1.4 माइक्रोन पिक्सेल्स, डुअल-पीडीएफ, अपर्चर एफ/.7 और डुअल एलईडी फ्लैश के साथ आता है। इस स्मार्टफोन में 64GB इनबिल्ट स्टोरेज है जिसे माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 256GB तक बढ़ा सकते हैं। इस स्मार्टफोन में एक ट्रिपल-स्लॉट ट्रे है, जिसमें दो सिम कार्ड और एक माइक्रोएसडी कार्ड एक साथ इस्तेमाल किए जा सकते हैं।Oppo F3 प्लस में 4G VoLTE, वाई-फाई 802.11 ए/बी/जी/एन/एसी, ब्लूटूथ 4.1, जीपीएस/ए-जीपीएस, 3.5 एमएम ऑडियो जैक और माइक्रो यूएसबी (ओटीजी के साथ) जैसे फीचर हैं। फोन में 4000 mAh की बैटरी है जो कंपनी की ही वीओसीसी फ्लैश चार्ज फास्ट चार्जिंग टेक्नोलॉजी सपोर्ट करती है। दावा किया गया है कि 5 मिनट की चार्जिंग में फोन से 2 घंटे तक का टॉक टाइम मिलेगा। इसके अलावा फोन में एक्सेलेरोमीटर, एम्बिएंट लाइट सेंसर, गायरोस्‍कोप, मैग्नेटोमीटर और प्रॉक्सिमिटी सेंसर हैं। Sony ने उतारे नए ‘Extra Bass’ हेडफोन्स, कीमत 2790 से 12,990 रुपए के बीचआतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरKarnataka News: भाजपा मंत्री ने सिद्धारमैया से कहा- अंडमान जेल जाएं और सावरकर के इतिहास के बारे में जानें******Highlights कांग्रेस नेता सिद्धारमैया की ‘मुस्लिम क्षेत्र’ टिप्पणी और हिंदुत्व विचारक वी डी सावरकर के खिलाफ उनके बयान को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताओं ने उन पर शुक्रवार को भी निशाना साधा। कर्नाटक के ऊर्जा मंत्री वी सुनील कुमार ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को अंडमान की सेल्युलर जेल का दौरा करने और आजादी के आंदोलन में सावरकर के योगदान के बारे में जानने की सलाह दी। कुमार ने कहा, “भारत के स्वतंत्रता संग्राम में सावरकर के योगदान के लिए उन्हें वीर सावरकर के रूप में जाना जाता है। सिद्धारमैया सावरकर को इसलिए कमतर करके आंक रहे हैं, क्योंकि वह इतिहास के बारे में पूरी तरह से नहीं जानते। अगर वह इतिहास से पूरी तरह से वाकिफ होते तो वह इस तरह से नहीं बोलते।”भाजपा नेता कुमार ने कहा, “मैं उनसे अंडमान की सेल्युलर जेल की यात्रा करने का आग्रह करता हूं। अगर आप उस जेल को देखेंगे तो आपकी आंखों में आंसू आ जाएंगे, आप भारतीयों के संघर्ष और अंग्रेजों की क्रूरता को समझ पाएंगे। अगर आपके पास समय है तो जेल का दौरा करें और फिर सावरकर के बारे में बोलें।” कर्नाटक विधानसभा में विपक्ष के नेता सिद्धरमैया ने मंगलवार को भाजपा पर जिला मुख्यालय शिवमोगा में 15 अगस्त को सांप्रदायिक तनाव पैदा करने का आरोप लगाते हुए मुस्लिम बहुल इलाके में सावरकर की तस्वीर लगाने के प्रयासों पर सवाल उठाया था।कांग्रेस नेता ने कहा था, “उन्होंने मुस्लिम बहुल इलाके में सावरकर की फोटो लगाने की कोशिश की। उन्हें कोई भी फोटो लगाने दें, कोई बात नहीं। लेकिन, मुस्लिम बहुल क्षेत्र में ऐसा क्यों? और उन्होंने टीपू सुल्तान की तस्वीर को ‘न’ क्यों कहा?” इस टिप्पणी के बाद हिंदू संगठनों और भाजपा ने उनके खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिए। सिद्धरमैया के गुरुवार को कोडागु की यात्रा के दौरान उनके खिलाफ प्रदर्शन किया गया।

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरइटली में ड्राईवर ने स्कूल बस अगवा कर लगाई आग, बाल-बाल बचे 51 बच्चे****** स्कूली बच्चों को ले जा रही एक बस का उसके चालक ने अपहरण कर लिया और के मिलान के निकट उसमें आग लगा दी। बस में 51 बच्चे सवार थे। बीबीसी की बुधवार की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चों को बस के पीछे की खिड़की को तोड़कर बचा लिया गया। इस घटना में कोई बुरी तरह से घायल नहीं हुआ। चालक (47) को गिरफ्तार कर लिया गया। वह मूल रूप से सेनेगल का रहने वाला है।चालक ने कथित तौर पर कहा था, "कोई भी जिंदा नहीं बचेगा।" मिलान के मुख्य अभियोजक फ्रांसेस्को ग्रीको ने कहा, "यह एक चमत्कार है, यह एक नरसंहार हो सकता था।"बस में सवार एक शिक्षक ने कहा कि संदिग्ध इटली की प्रवासी नीति को लेकर नाराज लग रहा था।जब संदिग्ध स्कूल बस में चाकू लेकर बच्चों को डरा रहा था तो एक लड़के ने अपने माता-पिता को कॉल किया, जिन्होंने पुलिस को सूचना दी।रिपोर्ट के अनुसार, पेट्रोल बस के चारों तरफ छिड़क दिया गया था, लेकिन पुलिस बस के पिछले खिड़की को तोड़कर बच्चों को आग की लपटों में फंसने से पहले बचा लिया।आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरफ्लैशबैक 2018: साल की सबसे बड़ी घटनाएं जिन्होंने पूरी दुनिया पर अपना असर छोड़ा****** को खबरों के लिहाज से इस सदी के सबसे दिलचस्प सालों में गिना जाएगा। इस साल जहां और अमेरिका के रिश्तों पर जमी बर्फ पिघली तो वहीं सऊदी अरब में महिलाओं को कुछ ऐसे हक दिए गए जिसकी कुछ महीने पहले तक कल्पना भी नहीं की जा सकती थी। यह दुनिया के कई देशों में सियासी उठापठक के लिहाज से भी एक बेहद ही महत्वपूर्ण साल रहा। आइए, नजर डालते हैं 2018 की कुछ ऐसी घटनाओं पर, जिन्होंने इस साल दुनियाभर का ध्यान अपनी तरफ खींचा। में सालों बाद बदलाव की बयार बह रही है। 24 जून 2018 को सऊदी ने अपने कानून में बदलाव करते हुए महिलाओं को भी गाड़ी ड्राइव करने की इजाजत दे दी। इसी साल सऊदी अरब के न्यूज चैनल पर पहली बार कोई महिला ऐंकर दिखी। इसके अलावा इस देश में कई सालों बाद सिनेमाहॉल में मूवी दिखाई गई। ये हक पाने के लिए इस देश की महिलाओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने सालों तक संघर्ष किया था। माना जा रहा है कि सऊदी महिलाओं को कई अन्य अधिकार भी देगा, जिसपर अभी तक पाबंदी लगी है।12 जून 2018 की तारीख अमेरिका और उत्तर कोरिया के संबंधों में एक नई इबारत लिख गई। इस दिन अमेरिका के राष्ट्रपति और उत्तर कोरिया के नेता ने सिंगापुर में मुलाकात की। इससे पहले इस मुलाकात के लिए कभी हां, कभी ना वाले हालात रहे। कभी किम ट्रंप को अपनी पहुंच के अंदर परमाणु बटन होने की धमकी देते, तो कभी अमेरिकी राष्ट्रपति बताते कि उनका परमाणु बटन उत्तर कोरियाई नेता के मुकाबले बड़ा है और काम भी करता है। हालांकि अंत में दोनों सिंगापुर में मिले और दुनिया को कोरियाई प्रायद्वीप में शांति की उम्मीद जग गई।कैलिफोर्निया के जंगलों ने इस साल भयंकर आग देखी। यह एक ऐसी आग थी जैसी इस देश में दशकों तक नहीं देखी गई। दर्जनों लोग इस जंगली आग की चपेट में आकर मारे गए, सैकड़ों लापता हुए, और हजारों घर तबाह हो गए। इसे अमेरिका में पिछले 100 साल में सबसे खतरनाक आग लगने की घटना माना गया। यह आग 8 नवंबर को शुरू हुई और 25 नवंबर तक धधकती रही, 620 स्क्वेयर किलोमीटर के बड़े इलाके को जलाती रही।तुर्की के इस्तांबुल में स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में पत्रकार की सुनियोजित हत्या से सऊदी अरब सरकार कटघरे में खड़ी नजर आई। इस हत्या में सऊदी के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान का हाथ होने का दावा किया गया। पहले तो सऊदी अरब ने यह मानने से ही इनकार कर दिया कि खशोगी की हत्या की गई है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय दबाव के आगे उसे झुकना पड़ा और मानना पड़ा कि पत्रकार को दूतावास में ही मार डाला गया है। इस एक घटना ने अंतरराष्ट्रीय बिरादरी में सऊदी की साख पर जबर्दस्त बट्टा लगा दिया। हालांकि ट्रंप ने इसकेबावजूद सऊदीसे रिश्तों पर पुनर्विचार करनेसे इनकार कर दिया। में 25 जुलाई को हुए आम चुनावों में की पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी ने जीत हासिल की और वह देश के नए प्रधानमंत्री बने। हालांकि ऐसी भी रिपोर्ट्स आईं कि इमरान को जीत दिलाने के लिए पाकिस्तानी सेना ने बड़े स्तर पर चुनावों में गड़बड़ी की। वहीं, यह साल नवाज शरीफ के लिए मुश्किलों भरा रहा। उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में 10 साल की जेल हो गई। साथ ही उन्हें चुनाव लड़ने के अयोग्य भी करार दिया गया। फिलहाल वह अपनी बेटी और दामाद के साथ जेल की सजा काट रहे हैं।जी हां,अमेरिकाराष्ट्रपतिअकेलेहीतमामऐसी परिस्थितियांपैदाकीं जिन्हेंपूरीदुनियाकीमीडियामें जगह मिली।ईरानपरमाणुसमझौतेसेअमेरिकाको अलगकरने,ईरानऔर रूससमेतकईदेशोंपर प्रतिबंधलगाने,सीरियासेअमेरिकीसैनिकोंकोवापसबुलाने, आव्रजकों औरउनकेबच्चों केखिलाफकड़ा रुखअपनाने,दशकोंपुरानीपरंपराको तोड़कर इस्राइल केजेरूसलममेंअमेरिकीदूतावासखोलने,जेरूसलमको इस्राइल कीराजधानीके तौर पर मान्यतादेनेजैसेउनकेतमामकदमोंनेदुनियामें अच्छी-खासीउथल-पुथलपैदाकी।यह साल हिंद महासागर में भारत के पड़ोसी के लिए भी काफी उथल-पुथल लेकर आया था। साल की शुरुआत में ही तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने देश में 15 दिनों के आपातकाल का ऐलान किया। राजनीति कैदियों को रिहा करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश को मानने से इनकार करने के बाद अपने देश के लोगों के विरोध को देखते हुए यामीन ने फरवरी में आपातकाल लगाया था। कई देशों के विरोध के बाद 22 मार्च 2018 को जाकर आपातकाल खत्म होने का ऐलान हुआ। बाद में चुनाव हुए, जिनमें चीन समर्थक माने जाने वाले यामीन की जगह भारत के लिए नर्म रुख रखुने वाले इब्राहिम मोहम्मद सोलिह देश के नए राष्ट्रपति बने।यह साल दशकों से एक-दूसरे के कट्टर दुश्मन रहे दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया के रिश्तों पर जमी बर्फ के पिघलने का भी गवाह रहा। किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया का दौरा किया तो दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन भी प्योंगयांग आए। मून का यह दौरा दक्षिण कोरिया के किसी भी नेता द्वारा पिछले 11 सालों में उत्तर कोरिया की राजधानी के लिए पहला दौरा था। दोनों की इन मुलाकातों के दौरान की तस्वीरों को देखकर दुनिया में यह उम्मीद पनपी है कि ये दोनों प्रतिद्वंदी देश जल्द ही एक खुशनुमा रिश्ते की शुरुआत कर सकते हैं।भारत का एक और पड़ोसी देश श्रीलंका भी इस साल राजनीतिक उथल-पुथल का शिकार हुआ। यहां के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना ने नाटकीय ढंग से प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को उनके पद से बर्खास्त किया और महिंदा राजपक्षे को देश का नया प्रधानमंत्री बना दिया। इसके बाद विक्रमसिंघे ने राजपक्षे को प्रधानमंत्री मानने से इनकार कर दिया। फिर मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा और 13 दिसंबर को सुप्रीम कोर्ट ने सिरिसेना की ओर से संसद भंग करने के फैसले को अवैध करार दे दिया, जिसके बाद 16 दिसंबर को रानिल विक्रमसिंघे की देश के प्रधानमंत्री पद पर वापसी हुई।थाईलैंड के उत्तर में स्थित पानी से भरी एक गुफा से 12 बच्चों और उनके कोच को 10 जुलाई को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। फुटबाल खेलने वाले ये खिलाड़ी और कोच 18 दिनों तक इस गुफा में फंसे हुए थे। इन बच्चों और कोच को निकालने के लिए व्यापक तौर पर राहत कार्य शुरू किया गया था जिसमें कई देशों के विशेषज्ञ लगे हुए थे। सबसे पहले ब्रिटिश बचाव गोताखोरों ने इन बच्चों को ढूंढा, जो गुफा के मुख्य द्वार से 4 किलोमीटर अंदर थे। ये सभी खिलाड़ी फुटबॉल क्लब वाइल्ट बोर्स के हैं।इंडोनेशिया ने 2018 में कई प्राकृतिक आपदाओं का सामना किया। यहां के लोम्बोक द्वीप पर जुलाई और अगस्त के महीने में आए भूकंप और सुनामी के चलते सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी, जबकि कई अन्य घायल हो गए थे। अभी इंडोनेशिया इस झटके से उबरा भी नहीं था कि 22 दिसंबर को सुंडा स्ट्रेट में ज्वालामुखी फटने के बाद आई विनाशकारी सुनामी में 400 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई जबकि हजारों लापता हो गए। इसके अलावा इस घटना में कम से कम 22 हजार लोग विस्थापित भी हुए। इससे पहले 2004 में आए 9.1 तीव्रता वाले भूकंप और सुनामी ने आचिह प्रांत में काफी तबाही मचाई थी। उस घटना में करीब 1,70,000 लोगों की जान चली गई थी।

आतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरCPL 2022: अंतिम दौर में पहुंचा कैरेबियन प्रीमियर लीग, प्लेऑफ में भिड़ेंगी ये चार टीम******Highlights कैरेबियन प्रीमियर लीग 2022 अपने अंतिम चरण में है। लीग स्टेज के अंतिम मुकाबले के बाद सीपीएल को अपने टॉप 4 टीम मिल गई है। अब इन टॉप 4 टीमों की नजरें फाइनल में अपनी जगह पक्की करने पर होगी। लीग स्टेज के अंतिम मुकाबले में गयाना अमेजन वॉरियर्स ने बारबाडोस रॉयल को 5 विकेट से हराकर पॉइंट्स टेबल पर टॉप 2 में अपनी जगह पक्की कर ली। अंतिम मुकाबले में गयाना अमेजन वॉरियर्स ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया था। पहले बल्लेबाजी करते हुए बारबाडोस रॉयल की टीम 17.3 ओवर में 125 रन पर ऑलआउट हो गई। जवाब में गयाना अमेजन वॉरियर्स ने 14.3 ओवर में ही इस टारगेट को चेज कर लिया। साकिब अल हसन को इस मैच में प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। उन्होंने 30 गेंदों पर 53 रनों की पारी खेली वहीं 12 रन देकर एक विकेट भी लिया।सीपीएल का क्वालीफायर (1) 27 सितंबर को खेला जाएगा। इसमें गयाना अमेजन वॉरियर्स और बारबाडोस रॉयल की टीम आपस में भिड़ेंगी। वहीं एलिमिनेटर 28 सितंबर को खेला जाएगा। इसमें जमैका तल्लावास और सेंट लूसिया किंग्‍स की टीम आपस में भिड़ेंगी। दूसरा क्वालीफायर 29 सितंबर वहीं 01 अक्टूबर को फाइनल खेला जाएगा।सीपीएल में भी आईपीएल की ही तरह प्लेऑफ का आयोजन होता है। इसमें टॉप की दो टीमों के बीच क्वालीफायर 1 वहीं तीसरे और चौथे नंबर की टीम के बीच में एलिमिनेटर खेला जाएगा। वहीं क्वालीफायर 1 में जीतने वाली टीम फाइनल में अपनी जगह बना लेगी और एलिमिनेटर जीतने वाली टीम और क्वालीफायर 1 में हारने वाली टीम क्वालीफायर 2 में फाइनल में अपनी जगह बनाने के लिए भिड़ेंगी।- गयाना अमेजन वॉरियर्स बनाम बारबाडोस रॉयल- जमैका तल्लावास बनाम सेंट लूसिया किंग्‍स– TBA- TBAआतंकियोंकेखिलाफताबड़तोड़कार्रवाईजारीसुरक्षाबलोंसेमुठभेड़में4आतंकीढेरएक साल में IPL की ब्रांड वैल्‍यू में हुआ 26% का इजाफा, 11 साल में 34,000 करोड़ रुपए का बना कारोबार****** (आईपीएल) के 11वें संस्‍करण के लिए खिलाडि़यों की नीलामी शुरू हो चुकी है। वहीं एक साल में आईपीएल की ब्रांड वैल्‍यू 26 प्रतिशत बढ़कर 2017 में 5.3 अरब डॉलर (लगभग 34,000 करोड़ रुपए) हो गई। न्‍यूयॉर्क की कॉरपोरेट फाइनेंस एडवाइजरी फर्म Duff & Phelps द्वारा जारी ताजा रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है। 2016 में आईपीएल की ब्रांड वैल्‍यू 4.2 अरब डॉलर (लगभग 27,000 करोड़ रुपए) थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि स्‍मार्टफोन कंपनी वीवो द्वारा टाइटल स्‍पॉन्‍सरशिप के लिए किए गए 2200 करोड़ रुपए के करार के बाद आईपीएल की ब्रांड वैल्‍यू में यह इजाफा हुआ है। डफ और फेल्‍पस रिपोर्ट में मुकेश अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की टीम मुंबई इंडियंस को सबसे अधिक ब्रांड वैल्‍यू वाली टीम घोषित किया गया है। इस टीम की ब्रांड वैल्‍यू सभी टीमों की तुलना में 10.6 करोड़ डॉलर है। केवल 11 साल में आईपीएल की कीमत शून्‍य से हजारों करोड़ रुपए हो गई है।बिजनेस, एंटरटेनमेंट और स्‍पोर्ट्स को एक साथ एक प्‍लेटफॉर्म पर लाने के पीछे ललित मोदी का दिमाग था। जब 2008 में IPL की शुरुआत हुई तो इसे भारत के लिए एक बेशकीमती खेल प्रतीक के रूप में देखा गया। इस लीग के जरिये न केवल दुनियाभर के बेहतरीन क्रिकेट खिलाडि़यों को एक जगह इकट्ठा किया गया, बल्कि इसने कॉर्पोरेट भारत को भी अपने साथ जोड़ लिया। अभी भी बहुत से लोग यह नहीं समझ पा रहे हैं कैसे आईपीएल फ्रेंचाइजी करोड़ों रुपए में स्‍टार खिलाडि़यों को खरीद रही हैं और उनको कैसे कमाई हो रही है।बिजनेस के लिए बना है आईपीएलआईपीएल की वास्‍तविकता यह है कि इसे बिजनेस के दृष्टिकोण से डिजाइन किया गया है। यह एक क्रिकेट टूर्नामेंट है, जिसे मूल्‍यवान कॉमर्शियल प्रॉपर्टी के तौर पर विकसित किया गया है। यह कंपनियों को आक्रामक ढंग से अपने बिजनेस का विज्ञापन करने का अवसर प्रदान करता है। आईपीएल का प्रमुख बिजनेस प्‍लान यह है कि प्राइवेट कंपनियों को क्रिकेट फ्रेंचाइजी खरीदने के लिए बुलाया जाए। जब फ्रेंचाइजी को बड़ी कीमत पर बेच दिया जाएगा, तब कॉर्पोरेट्स भारतीय क्रिकेट में निवेश के लिए आकर्षित होंगे। यही वह रास्‍ता है जहां से पैसा आता है। इस समय नए-नए स्‍टार्टअप्‍स आईपीएल के सबसे बड़े ग्राहक हैं। यह स्‍टार्टअप्‍स विज्ञापन के लिए आईपीएल टीमों के साथ गठजोड़ करते हैं और बहुत ही कम समय में लाखों ग्राहकों की नजरों में आ जाते हैं।बड़ी-बड़ी कंपनियां लगाती हैं पैसाआईपीएल ने कॉर्पोरेट इंडिया को भारतीय क्रिकेट के ड्रेसिंग रूम में आने की अनुमति दी है। इससे पहले स्‍पॉन्‍सर्स कभी प्‍लेयर्स की टीशर्ट पर अपनी कंपनी के लोगो के लिए पैसा नहीं देते थे, लेकिन अब इसके लिए मोटी रकम चुका रहे हैं। अंतरराष्‍ट्रीय और बड़ी कंपनियां इस खेल को स्‍पॉन्‍सर कर रही हैं। भारत में क्रिकेट को लेकर अजीब पागलपन है, दुनिया में सबसे ज्‍यादा क्रिकेट प्रेमी और जनसंख्‍या भारत में हैं, जो लगातार बढ़ रही है। सभी लोग इस बात से सहमत हैं कि एंटरटेनमेंट इंडस्‍ट्री में कभी मंदी नहीं आती और आईपीएल बॉलीवूड और क्रिकेट का कॉकटेल है, जो केवल एंटरटेनमेंट, एंटरटेनमेंट और एंटरटेनमेंट का वादा करता है।आईपीएल में एक रेवेन्‍यू डिस्‍ट्रीब्‍यूशन मॉडल है, जहां बीसीसीआई ब्रॉडकास्‍टर और ऑनलाइन स्‍ट्रीमर से मोटी रकम वसूलता है। इसमें से अपनी फीस काटकर इस रकम को सभी आईपीएल टीम के बीच बांटा जाता है। इसका बंटवारा टीम रैंक के आधार पर होता है। खेल के अंत में जिस टीम की रैंक जितनी अधिक होती है उसे मीडिया रेवेन्‍यू में उतना बड़ा हिस्‍सा मिलता है। आईपीएल टीम द्वारा कुल कमाई में 60-70 फीसदी हिस्‍सा मीडिया राइट्स का होता है। ब्रांड स्‍पॉन्‍सरशिप के जरिये भी आईपीएल फ्रेंचाइजीस एक बड़ी रकम हासिल करती हैं। फ्रेंचाइजी ब्रांड के साथ टाइअप कर उनके ब्रांड व लोगो को टीम किट और जर्सी पर छापते हैं। स्‍टेडियम की बाउंड्री पर लगने वाले विज्ञापनों से भी कमाई होती है। खिलाड़ी की छाती और पीठ पर बड़े व बोल्‍ड अक्षरों में उस कंपनी का नाम या लोगो लगाया जाता है तो सबसे ज्‍यादा स्‍पॉन्‍सरशिप फीस चुकाता है। स्‍पॉन्‍सर्स टीम खिलाडि़यों के साथ कुछ कार्यक्रम भी आयोजित कर सकता है, जिसके जरिये वह अपने ब्रांड को प्रमोट करता है। कुल कमाई में स्‍पॉन्‍सरशिप का हिस्‍सा 20-30 फीसदी होता है। स्‍टेडियम में टिकट बिक्री से भी कमाई होती है। टिकट का दाम टीम मालिक तय करते हैं। आईपीएल टीम के रेवेन्‍यू में टीकट की हिस्‍सेदारी तकरीबन 10 फीसदी है।आईपीएल में बहुत बड़ी नकद राशि ईनाम के तौर पर दी जाती है। 2017 में लगभग 45 करोड़ रुपए ईनाम के तौर पर दिए गए। टूर्नामेंट की चैंपियन टीम को ईनाम राशि का सबसे बड़ा हिस्‍सा मिलता है। प्राइज मनी को टीम मालिक और खिलाडि़यों के बीच बांटा जाता है। 2017 में विजेता टीम को 15 करोड़ और उपविजेता टीम को 10 करोड़ रुपए दिए गए। तीसरे और चौथे स्‍थान पर रहने वाली टीमों को 7.5-7.5 करोड़ रुपए दिए गए। भारत में खेल सामग्री का बाजार सालाना आधार पर 100 फीसदी की दर से बढ़ रहा है और यह बाजार तकरीबन 3 करोड़ डॉलर का है। प्रत्‍येक फ्रेंचाइजी मर्चेंडाइज की बिक्री करती है, जिसमें टी-शर्ट, कैप, रिस्‍ट वॉच और अन्‍य कई सामग्री शामिल हैं। मैच के दौरान फूड स्‍टॉल कॉन्‍ट्रैक्‍ट आधार पर थर्ड पार्टी को दिए जाते हैं जो इन्‍हें सब-कॉन्‍ट्रैक्‍ट के रूप में देती है। यह स्‍टॉल प्रति मैच प्रति स्‍टॉल एक तय कीमत पर दिए जाते हैं।सोनी पिक्‍चर्स नेटवर्क के पास 14 प्रमुख स्‍पोंसर्स हैं और 2017 में सोनी को 1300 करोड़ रुपए का विज्ञापन राजस्‍व हासिल हुआ। 2016 में सोनी पिक्‍चर्स ने आईपीएल के दौरान विज्ञापन से 1100 करोड़ रुपए की कमाई की थी। 2017 में हॉटस्‍टार की विज्ञापन कमाई भी दोगुना होकर 120 करोड़ रुपए रही। 2018 में विज्ञापन कमाई में भी अच्‍छीखासी वृद्धि होने की उम्‍मीद है।नए ब्रांड क्रिकेट पर जमकर पैसा लगा रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण चीनी मोबाइल कंपनी वीवो और ओप्‍पो हैं। कंपनी ने भारतीय क्रिकेट टीम की अपैरल और गियर स्‍पॉन्‍सरशिप का अधिकार 1079.29 करोड़ रुपए में खरीदा है। एक अन्‍य चीनी कंपनी वीवो ने भारत में अपनी मजबूत उपस्थिति के लिए आईपीएल का टाइटल स्‍पॉन्‍सरशिप के लिए 2200 करोड़ रुपए का करार किया है।कंसल्टिंग फर्म केपीएमजी का अनुमान है कि आईपीएल से हर साल 2,650 करोड़ रुपए की आर्थिक गतिविधियां पैदा होती हैं, जबकि भारतीय जीडीपी में यह 1150 करोड़ रुपए का योगदान करता है। वर्तमान में 2 लाख करोड़ डॉलर वाली भारतीय जीडीपी में आईपीएल का योगदान मात्र 0.01 फीसदी है। अधिकांश विकसित देशों की जीडीपी में खेल का हिस्‍सा 1.5 से 2 फीसदी है। इस मामले में भारत को अभी बहुत लंबी यात्रा तय करनी है।

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री