राष्ट्रपति चुनाव में अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर वोट दें सांसद और विधायक: मीरा कुमार

समय:2022-10-01 00:13:33स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:वेइनान

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारपिछले मैच की तरह इस बार भी अबुधाबी में गेंदबाज अहम किरदार निभाएँगे लेकिन यह मैच के बीच में होगा। शुरुआत में नई गेंद पर रन बनाए जा सकते हैं। इसके बाद गेंदबाजों के लिए भी मदद की पूरी संभावना है।टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया जा सकता है। अबुधाबी में 170 रन का स्कोर अच्छा कहा जा सकता है क्योंकि दूसरी पारी में पिच और धीमा होगा।

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारअम्बाती रायडूराष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारपहले आईपीएल शतक के लिए सबसे ज्यादा पारियां खेलने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर हैं।रायडू ने अपना पहला आईपीएल शतक 2018 में सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ लगाया था।रायडू को अपने पहले आईपीएल शतक के लिए 119 पारियां लग गयी।रायडू ने 62 गेंदों में 100 रन बनाये थे।"

राष्ट्रपति चुनाव में अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर वोट दें सांसद और विधायक: मीरा कुमार

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमार"दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीगराष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारआईपीएलराष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमार(IPL) में हर रोज चौके छक्के देखने को मिल रहे हैं। आईपीएल में हर साल की तरह इस साल भी बल्लेबाज गेंदबाजों पर हावी हो रहे हैं और जमकर रन बना रहे हैं। मैदानों में छोटी बाउंड्री होने के कारण गेंदबाजों के लिए आईपीएल में गेंदबाजी करना आसान नहीं है।

राष्ट्रपति चुनाव में अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर वोट दें सांसद और विधायक: मीरा कुमार

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारबल्लेबाज पहली गेंद से ही बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करने लगते हैं। ऐसे में गेंदबाजों को बड़ी चालाकी से गेंदबाजी करनी पड़ती है। गेंदबाजों की थोड़ी सी गलती का बल्लेबाज भरपूर फायदा उठाते हैं। पावर प्ले में फील्डिंग रिस्ट्रिक्शन होने के कारण गेंदबाजों के लिए और मुश्किलें बढ़ जाती हैं। पावर प्ले में केवल दो फील्डर ही सर्कल के बाहर होते हैं ऐसे में बल्लेबाज उसका पूरा फायदा उठाते हैं और गेंदबाज के ऊपर हावी होने की कोशिश करते हैं।राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमार:

राष्ट्रपति चुनाव में अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर वोट दें सांसद और विधायक: मीरा कुमार

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारIPL - चार मैचों में लगातार 50+ का स्कोर बनाने वाले 3 भारतीय बल्लेबाज

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारआईपीएल के इस सीजन कई गेंदबाज ऐसे रहे जिन्होंने पावरप्ले में शानदार गेंदबाजी की और बल्लेबाजों को अपनी सटीक गेंदबाजी से परेशानी में डाला।वहीँ कुछ गेंदबाज ऐसे भी रहे जिन्हें बल्लेबाजों ने पावरप्ले में निशाना बनाया और उनके ओवर में जमकर रन बटोरे।इस आर्टिकल के माध्यम से हम ऐसे ही 3 गेंदबाजों पर चर्चा करने जा रहे हैं , जिन्होंने इस सीजन पावरप्ले में अपने एक ओवर में सबसे ज्यादा रन खर्च किये :राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारकी प्लेऑफ्स की उम्मीदों को करारा झटका लगा है। चेन्नई ने पहले 10 मैच में अभी तक 3 ही मुकाबलों जीते है और 7 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। रॉयल्स के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी चेन्नई की टीम ने 20 ओवर में केवल 125 रन बनाये, जिसके जवाब में राजस्थान ने लक्ष्य को 18वें ओवर में पा लिया। जोस बटलर ने 70 रनों की नाबाद मैच जिताऊ पारी खेली।

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारचेन्नई का प्रदर्शन इस साल बेहद ही निराशाजनक रहा है। इस हार से उनकी प्लेऑफ्स की उम्मीदें लगभग खत्म हो गई। कप्तान धोनी भी टीम के प्रदर्शन से बेहद नाराज नजर आये और उन्होंने बैंच पर बैठे युवा खिलाड़ियों पर निशाना साधा। एमएस धोनी ने युवा खिलाड़ियों को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया। उन्होंने कहा कि हमें युवा खिलाड़ियों के खेल में वो चमक नजर नहीं आती जिसपर हम विश्वास कर पाएं और उन्हें प्लेइंग XI में शामिल कर ले।राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारचेन्नई सुपर किंग्स ने अपने अनुभवी खिलाड़ियों पर लगातार भरोसा दिखाया है लेकिन केदार जाधव, पियूष चावला और अन्य खिलाड़ियों ने निराशाजनक प्रदर्शन किया है। कप्तान धोनी ने आगे कहा कि हम ज्यादा बदलाव नहीं करना चाहते। नए खिलाड़ियों को खिलाकर हम टीम में असुरक्षा नहीं रखना चाहते और साफतौर पर हमने इस सीजन अच्छा प्रदर्शन भी नहीं किया है। आगे के मुकाबलों में हम युवा खिलाड़ियों को बिना दबाव के खेलने के लिए कहेंगे।

राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमारराजस्थान रॉयल्स के खिलाफ गेंदबाजी में तेज गेंदबाजों के इस्तेमाल पर धोनी ने कहा कि स्पिन गेंदबाजी के लिए मुझे कुछ मदद नहीं दिखाई दी। इसलिए मैं तेज गेंदबाजों के साथ गया। कभी फैसले आपके साथ जाते है, कभी नहीं जाते। धोनी ने रविंद्र जडेजा और पियूष चावला से कुल मिलाकर 4 ओवर ही करवाए और अपने तेज गेंदबाजों पर ही भरोसा रखा।"राष्ट्रपतिचुनावमेंअपनीअंतरात्माकीआवाजसुनकरवोटदेंसांसदऔरविधायकमीराकुमार"इंडियन प्रीमियर लीग

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री