UP election 2022: धारा 370 हटाने पर बोले शाह-अखिलेश बाबू, खून की नदियां तो छोड़ो किसी की कंकड़ मारने की हिम्मत भी नहीं हुई

समय:2022-09-30 08:51:33स्रोत:संवेदनशीलता नेटवर्क लेखक:यिनचुआन

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईकप्तान ओग्बेचे ने इंजुरी टाइम (91वें मिनट) में मेहमान टीम को सांत्वना दिलाने वाला गोल किया। ओग्बेचे का यह इस सीजन का नौवां गोल है। मेहमान टीम यह गोल करके अभी संभली ही थी कि मिग्वेल फर्नांडेज ने इंजुरी टाइम (93वें मिनट) में गोवा के लिए पांचवां गोल दागा।"

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईस्पोर्ट्स्प्रोधारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई' नामक पत्रिका ने इनको 2012 और 2013 का सबसे '

UP election 2022: धारा 370 हटाने पर बोले शाह-अखिलेश बाबू, खून की नदियां तो छोड़ो किसी की कंकड़ मारने की हिम्मत भी नहीं हुई

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईअसाधारण खिलाड़ीधारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई' बताया था।धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई2017 में€222million के मूल्य में इनको '

UP election 2022: धारा 370 हटाने पर बोले शाह-अखिलेश बाबू, खून की नदियां तो छोड़ो किसी की कंकड़ मारने की हिम्मत भी नहीं हुई

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईपेरिस सैंट जेरमैनधारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई' ने '

UP election 2022: धारा 370 हटाने पर बोले शाह-अखिलेश बाबू, खून की नदियां तो छोड़ो किसी की कंकड़ मारने की हिम्मत भी नहीं हुई

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईबार्सिलोना

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई' से खरीदा था, जो तब तक का सबसे महँगा सौदा था। अब तक नीमार ने ब्राज़ील के लिए 60 गोल किए है और क्लब स्तर पर 150 से भी ज़्यादा गोल किये। लोग इनका नाम लिओनेल मेस्सी और क्रिस्टीयानों रोनाल्डो के साथ लेते है, जो दर्शाता है की ये कितने बेहतरीन खिलाड़ी है।"धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईसानिया मिर्जा भी कोरोना वायरस की चपेट में आईं थीं और उन्‍होंने इससे ठीक होने के बाद एक पोस्‍ट भी शेयर किया था। सानिया मिर्जा ने ट्वीट किया था, 'साल की शुरूआत में क्‍या कुछ हुआ, जिसकी छोटी जानकारी देना चाहती हूं। मैं कोविड-19 की चपेट में आई थी। अल्‍लाह की दुआ है कि मैं स्‍वस्‍थ और एकदम ठीक हूं, लेकिन सिर्फ अपना अनुभव साझा करना चाहती हूं।'

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईसानिया मिर्जा की नजरें टोक्‍यो ओलंपिक्‍स पर भी लगी हुई हैं। सानिया मिर्जा ने सच्‍ची बात वेबसाइट से बातचीत करते हुए कहा, 'मैं कोविड-19 के बाद अभी ठीक होने की प्रक्रिया में हूं और उम्‍मीद है कि मार्च के पहले सप्‍ताह में मैच खेलने के लिए वापसी करूंगी।'धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुईबता दें कि सानिया मिर्जा ने महीने की शुरूआत में वो कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजिटिव पाई गईं, लेकिन अब ठीक हो चुकी हैं। छह बार की ग्रैंड स्‍लैम चैंपियन सानिया मिर्जा ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर भावुक पोस्‍ट करते हुए इसकी घोषणा की।"

धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई"भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने कहा कि इस साल टोक्‍यो में उनके चौथे ओलंपिक्‍स में मेडल जीतने के सपने ने उन्‍हें एक साल के लंबे अंतराल के बाद डब्‍ल्‍यूटीए सर्किट में वापसी के लिए प्रोत्‍साहित किया। सानिया मिर्जा ने स्‍लोवेनिया की आंद्रेजा क्‍लेपाक के साथ बुधवार को कतर ओपन में महिला डब्‍ल्‍स में सेमीफाइनल में प्रवेश किया। सानिया मिर्जा ने आखिरी बार फरवरी 2020 में टूर्नामेंट खेला था, और तब उन्‍होंने इसी दोहा इवेंट में हिस्‍सा लिया था।धारा370हटानेपरबोलेशाहअखिलेशबाबूखूनकीनदियांतोछोड़ोकिसीकीकंकड़मारनेकीहिम्मतभीनहींहुई34 साल की सानिया मिर्जा जनवरी में कोविड-19 से ठीक हुई हैं और वो चाहती हैं कि 2016 में ओलंपिक ब्रॉन्‍म मेडल मैच की हार का बदला लें। बता दें कि सानिया मिर्जा और उनके जोड़ीदार रोहन बोपन्‍ना को मिक्‍स्‍ड डबल्‍स में 6-1,7-5 से शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी। छह बार की ग्रैंड स्‍लैम डबल्‍स चैंपियन सानिया मिर्जा ने कहा, 'मेरी वापसी के पीछे टोक्‍यो ओलंपिक्‍स निश्चित ही एक कारण है। हम पिछले ओलंपिक्‍स में मेडल जीतने के काफी करीब पहुंच गए थे, लेकिन ब्रॉन्‍ज मेडल मैच में हार गए थे।'

सम्बंधित जानकारी
गर्म सामग्री